इरकॉन ने छत्तीसगढ़ में 750 करोड़ रुपये की खर्सिया-धरमजयगढ़ रेल मार्ग परियोजना पूरी की

नयी दिल्ली, 15 जनवरी (भाषा) इरकॉन इंटरनेशनल ने शुक्रवार को कहा कि छत्तीसगढ़ में उसने निजी सार्वजनिक भागीदारी (पीपीपी) माडल के तहत 30 किलोमीटर के कोरिछापार- धरमजयगढ़ खंड को पूरा करते हुए 750 करोड़ रुपये की खरसिया-धरमजयगढ़ रेल लाइन परियोजना पूरी कर ली है।

इसने कहा कि इस खंड के शुरु होने से उत्तर छत्तीसगढ़ क्षेत्र से कोयले के परिवहन में मदद मिलेगी।

कंपनी ने एक बयान में कहा, ‘‘इरकॉन इंटरनेशनल लिमिटेड, ने कोरिछापर से धरमजयगढ़ के बीच 30 किलोमीटर के खंड को 31 दिसंबर 2020 की निर्धारित तिथि के भीतर ही खोलकर एक और उल्लेखनीय सफलता प्राप्त की है। इसका परीक्षण 31 दिसंबर 2020 को किया गया।’’

बयान में कहा गया है कि कोरिछापार-धरमजयगढ़ खंड की लागत लगभग 325 करोड़ रुपये है और यह काम छत्तीसगढ़ ईस्ट रेलवे लिमिटेड नामक एसपीवी के जरिए इरकॉन इंटरनेशनल द्वारा किया गया है। छत्तीसगढ़ पूर्व रेलवे लिमिटेड में एसईसीएल, इरकॉन और छत्तीसगढ़ सरकार अंशधारक हैं।

यह 74 किलोमीटर का पहला रेल-मार्ग खंड है जिसे पीपीपी मॉडल के तहत शुरु किया गया है।

खरसिया से कोरीछापर के बीच 44 किमी लंबाई का एक खंड अक्टूबर 2019 में इरकॉन द्वारा चालू कर दिया गया था।

इसमें कहा गया है कि कोरिछापार-धरमजयगढ़ के पूरा होने के साथ, खरसिया-धरमजयगढ़ के बीच 74किमी का पूरा खंड परिचालन में आ गया है।इस से मालगाड़ी एसईसीएल की दुर्गापुर, बरौद और छाल खानों तक पहुँचेगी तथा एसईसीआर और एसईसीएल की कमाई बढोगी।

इरकॉन इंटरनेशनल लिमिटेड एक सार्वजनिक क्षेत्र का उद्यम है।

भाषा राजेश राजेश मनोहर

मनोहर

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password