नंदप्रयाग-घाट मार्ग के संबंध में मुख्यमंत्री रावत के जल्द कार्यवाही के निर्देश

देहरादून, 11 जनवरी (भाषा) उत्तराखंड के चमोली जिले में नंदप्रयाग—घाट मोटर मार्ग के चौड़ीकरण को लेकर पिछले एक माह से अधिक समय से आंदोलनरत जनता की मांग का संज्ञान लेते हुए मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने सोमवार को अधिकारियों को इस संबंध में जल्द कार्यवाही के आदेश दिए।

एक सरकारी विज्ञप्ति के अनुसार, मुख्यमंत्री रावत ने लोक निर्माण विभाग को इस संबंध में आवश्यक परीक्षण करते हुए शीघ्र कार्यवाही के निर्देश दिए ताकि क्षेत्र की ग्राम सभाओं के लोगों की समस्याओं का समाधान हो सके।

सड़क चौड़ीकरण की मांग को लेकर दवाब बनाने के लिए चमोली जिले के घाट विकास खण्ड के हजारों लोगों ने कल रविवार को 19 किलोमीटर लंबी घाट-नंदप्रयाग सड़क पर मानव श्रृंखला बनाकर प्रदर्शन किया था जिसे हटाने में प्रशासन को जबरदस्त पसीना बहाना पडा था ।

पिछले पांच दिसंबर से नंदप्रयाग से घाट के बीच सड़क मार्ग की चौड़ाई बढ़ाने को लेकर घाट व्यापार संघ एवं टैक्सी यूनियन लोगों के सहयोग से आंदोलन चला रही है। आंदोलनकारियों का कहना है कि प्रदेश के मुखिया की दो-दो बार खुले मंच से इस सड़क के चौड़ीकरण की घोषणा के तीन साल बाद भी उस पर कोई अमल नहीं हो रहा है ।

नंदा राजजात यात्रा का प्रमुख केन्द्र के साथ ही प्रत्येक वर्ष भादों मास में आयोजित होने वाली श्री नंदा लोकजात यात्रा भी घाट क्षेत्र के नंदा सिद्धपीठ कुरूड़ से होती है जिस कारण प्रतिवर्ष तीर्थयात्रियों का आवागमन लगा रहता है । लेकिन उचित यातायात सुविधा के अभाव में स्थानीय निवासियों के साथ ही यहां आने वाले देवी भक्तों को भी भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ता हैं।

कुल 55 ग्राम पंचायतों वाले घाट ब्लाक मुख्यालय तक 1962 में सड़क का निर्माण कार्य शुरू हुआ था लेकिन तब से इस में अधिक कुछ नहीं हुआ बल्कि दशकों से भूस्खलन, बाढ़, सड़क कटाव सहित तमाम अन्य दिक्कतों के चलते इस सड़क की स्थिति बद से बद्तर हो गई हैं।

भाषा दीप्ति अर्पणा

अर्पणा

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password