Indian Railways: अब ट्रेन में मिलेंगी प्लेन जैसी सुविधाएं, कोच में दिव्यांगजनों के लिए किया गया है खास इंतजाम

नई दिल्ली। भारतीय रेलवे हर दिन कुछ ना कुछ नया कर रही है। अब रेलवे ने आम यात्रियों के लिए ट्रेनों में सफर को आरामदायक और अधिक सुविधाजनक बनाने के लिए एक नए कोच का निर्माण किया है। कपूरथला के रेल कोच फैक्टरी में इस खास एसी 3 टियर इकनॉमी कोच का निर्माण किया गया है। कहा जा रहा है कि यह विश्व की सबसे सस्ती और उन्नत एसी थ्री टियर इकनॉमी कोच है।

 Indian Railways

इंटेरियर लुक काफी बेहतरीन है
इस कोच में बेहद खास सुविधाएं और इस का इंटेरियर लुक भी काफी बेहतरीन है। अगर आप एक नजर में इस कोच को देखते हैं तो लगता है जैसे किसी विमान की तरह इसमें सुविधाएं दी गई हैं। प्राप्त जानकारी के अनुसार इस कोच से अब हर वर्ग के लोगों को एसी कोच में सफर करने का सपना पूरा हो सकता है। इस कोच को पूरी तरीके से आधुनिक और सुविधाजनक बनाया गया है। हर डिब्बे में दिव्यांगजनों के लिए व्हील चेयर सहित एंट्री की सुविधा वाले दरवाजों तथा शौचालयों की वयवस्था की गई है। इससे पहले हम दिव्यांगजनों के लिए ऐसी सुविधा किसी ट्रेन में नहीं देखते थे।

 Indian Railways

ट्रायल के लिए लखनऊ भेजा गया
बतादें कि इस कोच को कपूरथला आरसीएफ से आरडीएसओ लखनऊ के लिए भेजा गया है। ताकि इसका ट्रायल किया जा सके। इस कोच को 2020 में ही रेल मंत्रालय ने बनाने की अनुमति दी थी। जिसके बाद से ही इसके डिजाइन पर युद्धस्तर पर काम किया जा रहा था। सबसे बड़ी बात ये है कि जहां पहले पुराने कोचों में 72 लोगों को बिठाया जा सकता था। वहीं अब इस नए कोच में 83 सीटें लगाई गई है। यानी इन कोचों में यात्रियों की संख्या भी ज्यादा होगी।

 Indian Railways

इसमें मॉड्यूल डिजाइन वाले बर्थ लगाए गए हैं
सीटों की संख्या को बढ़ाने के लिए कोच में लगे इलेक्ट्रिक उपकरणों को पहली बार बोगी के अंडर फ्रेम में जगह दी गई है। वर्तमान कोचों की अपेक्षा इसमें बेहतरीन और आधुनिक सुविधाएं भी दी गई हैं। इसमें पहले से बेहतर मॉड्यूल डिजाइन वाले बर्थ लगाए गए हैं। प्रत्येक बर्थ के लिए अलग-अलग एसी वेंट की सुविधा दी गई है। इतना ही नहीं इस कोच में हर यात्री के लिए अपना यूएसबी चार्जर प्वाइंट और रीडिंग लाइट दी गई है। एक बार में अगर इसे देखें तो लगता है जैसे किसी हवाई जहाज की सुविधा इसमें दी गई है।

बर्थ पर जाने के लिए आकर्षक सीढ़ी लगाए गए हैं
नए कोच में अब डिब्बे की साइड बर्थ की तरफ भी फोल्डबल स्नैक टेबल, मोबाई फोन तथा मैगजीन रखने के लिए होल्डर्स दिए गए है। साथ ही अपर और मिडिल बर्थ पर जाने के लिए पहले से आकर्षक और नए डिजाइन की सीढ़ियों का इस्तेमाल किया गया है। सभी कोचो में लाउडस्पीकर लगाए गए हैं, ताकि सार्वजनिक यात्री सूचना को दिया जा सके।

 

248 नए कोचों का कराया जा रहा है निर्माण
कोच के अदंर जममगाते मार्कर, बर्थ संकेतक और सीट नंबर डिस्पले लगाए गए हैं। सबसे बडी बात यह है कि ये बोगियां 160 किलोमीटर प्रति घंटा की स्पीड से चलने में सक्षम है। रेलवे ने कपूरथला रेल कोच फैक्टरी को अगले साल तक 248 नए डिब्बों के निर्माण का लक्ष्य दिया है। ताकि जल्द से जल्द इन आधुनिक कोचों को चलाया जा सके।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password