Indian Railway News: कैसे काम करता है ट्रेन टिकट का कोटा, आसान है कन्फर्म टिकट पाना, जानिए पूरी खबर

Indian Railway News: कैसे काम करता है ट्रेन टिकट का कोटा, आसान है कन्फर्म टिकट पाना, जानिए पूरी खबर

Indian Railway News: भारतीय रेलवे में रिजर्वेशन के लिए कन्फर्म टिकट (VIP quota Confirmed Ticket) मिलना यानी एक तरह से चमत्कार होना। लेकिन अगर आपसे कोई ट्रेन में वीआईपी कोटे से टिकट कंफर्म (VIP quota Confirmed Ticket) करने की बात कहे तो आपको हैरानी होगी। लेकिन आपको हैरान होने की जरूरत नहीं है। क्योंकि रेलवे की कई सुविधाओं में से एक इमरजेंसी कोटा है जिससे आम आदमी वीआईपी कोटे (VIP quota Confirmed Ticket) से कन्फर्म टिकट पा सकता है।

क्या होता है वीआईपी कोटा?

जब काफी वेटिंग लिस्ट के बाद भी कई यात्रियों के कम समय में टिकट कंफर्म (VIP quota Confirmed Ticket) हो जाते है तो ऐसा कैसे हो सकता है। दरअसल, इसके पीछे एक लॉजिक है। वीआईपी या आपातकालीन कोटे (VIP quota Confirmed Ticket) से आप अपना टिकट कंफर्म कर सकते हैं। यह प्रक्रिया सिफारिश पर की जाती है। आपातकालीन कोटा (VIP quota Confirmed Ticket) रेलवे मुख्यालय से बचा हुआ आरक्षित कोटा है। हालांकि यह कोटा रेल विभाग अधिकारियों और कर्मियों के लिए बनाया गया था जिन्हें आपात स्थिति में यात्रा करनी पड़ती है। बाद में इस कोटे (VIP quota Confirmed Ticket) का इस्तेमाल देश के मंत्री, सांसद, विधायक, न्यायिक अधिकारी, सिविल सेवा के अधिकारियों के लिए किया जाने लगा। अगर ये खुद यात्रा करते हैं तो वे इस कोटे से सीट या बर्थ के लिए अनुरोध कर सकते हैं। इतना ही नहीं ये लोग अपने रिश्तेदारों और मिलने वालों के लिए भी आपातकाल टिकट कंफर्म (VIP quota Confirmed Ticket) के लिए सिफारिस कर सकते है। सांसद और विधायक भी अपने क्षेत्र के लोगों के लिए अनुरोध करते हैं।

कैसे कंफर्म होता है टिकट?

अगर किसी ने नई दिल्ली से कोलकाता जाने के लिए किसी एक्सप्रेस ट्रेन के थर्ड एसी में रिजर्वेशन (VIP quota Confirmed Ticket) कराया और उसे वेटिंग लिस्ट में 70वां नंबर मिलता है। अगर अगले दिन के लिए ट्रेन है और निकलना भी जरूरी है तो उसे किसी ऐसे व्यक्ति से संपर्क करना होगा जो इमरजेंसी कोटे (VIP quota Confirmed Ticket) से उसका टिकट कन्फर्म करवा सके। एक बार इमरजेंसी कोटा (VIP quota Confirmed Ticket) के लिए अनुरोध दर्ज करने के बाद,उसे चार्ट को अंतिम रूप देने तक इंतजार करना पड़ता है जो ट्रेन के प्रस्थान से कुछ घंटे पहले तैयार किया जाता है। इस चार्ट के जारी होने के बाद उस व्यक्ति को अपने नाम के आगे एक सीएनएफ स्थिति दिखाई देगी। यानी इमरजेंसी कोटा कंफर्म (VIP quota Confirmed Ticket) होने की स्थिति में वह व्यक्ति रेल यात्रा के जरिए आराम से सो कर अपने घर जा सकता है।

किस ट्रेन में कितना कोटा उपलब्ध होता है?

रेलवे अधिकारियों के मुताबिक एक ट्रेन में इमरजेंसी कोटे (VIP quota Confirmed Ticket) की कितनी सीटें होती हैं इसकी कोई निश्चित सीमा नहीं है। यह कोटा ट्रेन की श्रेणी, उसमें अपेक्षित भीड़ और इमरजेंसी कोटा (VIP quota Confirmed Ticket) के लिए प्राप्त अनुरोधों के आधार पर तय किया जाता है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password