भारतीय रेलवे ने किया लंबी लूप लाइन का निर्माण, ट्रैफिक कम करने के लिए नई पहल, जानें क्या है Loop Lines?

नई दिल्ली: भारतीय रेलवे ने पहली लंबी लूप लाइन चालू की है। यह लंबी लूप लाइन दक्षिण मध्य जोन ने आंध्र प्रदेश के विजयवाड़ा स्टेशन के बिक्कावोलू स्टेशन पर पहली लंबी लूप लाइन होगी, जो की विजयवाड़ा-विशाखापट्टनम वाले रूट पर होगी। भारतीय रेलवे द्वारा इस योजना की पहल ट्रैफिक कम करने के लिए की गई है। बता दें कि बिक्कावोलू स्टेशन पर निर्माण कार्य शुरू हो गया और डेडलाइन से पहले ही वहां लूप लाइन तैयार हो गई। आइए जानते हैं क्या होंगे लंबी लूप लाइंस के फायदे

लंबी लूप लाइंस बनाने के होंगे ये फायदे

– इससे जय किसान जैसी लंबी दूरी की ट्रेनों के लिए अच्छा होगा, खासकर वहां जहां दो माल गाड़ियों को जोड़ा जाता है।
– मालगाड़ियों को मुख्य रेगुलर लाइन से हटाकर पैसेंजर ट्रेन के समय में सुधार होगा।
– मालगा़ड़ियों के ज्यादा ठहराव के बिना ट्रेनों को तेज गति से चलाने के लिए यह प्रभावी है।
– सभी ट्रेनों के संचालन में सुधार। ज्यादा से ज्यादा संख्या में ट्रेनों को खड़ी करने की व्यवस्था हो सकेगी।

लूप लाइंस क्या होती हैं?

बताया गया है कि रेलवे में लूप लाइंस को इसलिए बनाया जाता है जिससे की स्टेशनों पर ज्यादा से ज्यादा ट्रेनों को खड़ा किया जा सके। इसके साथ ही लूप लाइंस की मदद से ट्रेन के संचालन को आसान किया जा सके। सामान्य तौर पर इन लूप लाइंस की लंबाई 750 मीटर होती है, जो इंजन के साथ एक पूरी लंबाई वाली ट्रेन को अच्छे से आयोजित कर सके। बढ़ती मांग और ज्यादा औसतन गति को देखते हुए भारतीय रेलवे लगभग 1,500 मीटर लंबी लूप लाइन बनाने की तैयारी में है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password