India-China Border: चीन पर और बढ़ेगी भारत की पैनी नजर, लद्दाख और एलएसी सेक्टर में जल्द तैनात होगा नए इजरायली हेरॉन ड्रोन

नई दिल्ली। पूर्वी लद्दाख में पिछले करीब एक साल से भी ज्यादा वक्त से पड़ोसी देश चीन के साथ चल रही तनातनी के बीच भारतीय सुरक्षाबलों की निगरानी क्षमता में जबरदस्त इजाफा होने जा रहा है। दरअसल जल्द ही इजरायल (Israel) के हेरॉन ड्रोन (Heron Drone) भारत को मिल जाएंगे। इस ड्रोन के जरिए सेनाएं वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) और लद्दाख में और पैनी निगरानी कर पाएंगी। कोरोना महामारी की वजह से ड्रोन की डेलिवरी में देरी हुई है। सूरकार के सूत्रों के मुताबिक सेना को चार ड्रोन मिलेंगे।

एजेंसी एएनआई ने सरकार के सूत्रों के हवाले से बताया कि वैश्विक महामारी के चलते हुई देरी के बावजूद भारतीय सुरक्षा बल चार इजरायली ड्रोन जल्द हासिल करने जा रहा है, जिन्हें लद्दाख और एलएसी से लगते हुए अन्य इलाकों में तैनात किए जाएंगे। सूत्रों ने बताया कि जो ड्रोन जल्द भारत आ रहे हैं वो मौजूदा हेरोइन ड्रोन से ज्यादा एडवांस्ड हैं और पिछले वर्जन के मुकाबले इनकी एंटी-जैमिंग क्षमता कहीं ज्यादा बेहतर है।

क्या है हेरॉन
इजराइल एरोस्पेस इंडस्ट्रीज (IAI) ने निगरानी करने वाले करने वाले उपकरणों में खास ड्रोन तैयार किए हैं। इन खास एयरक्राफ्ट को आज के आधुनिक युद्ध स्थलों से खुफिया जानकारी हासिल करने में महारत है। हेरॉन या माकात्ज एक मीडियम एल्टीट्यूड का UAV है। इसे खास तौर पर निगरानी और सर्विलियंस ऑपरेशन्स के लिए बनाया गया है। इसे आईएआई ने पअनपे माल्टा विभाग में बनाया है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password