Ind vs Eng: भारत ‘टीम उतारने में असमर्थ’, कोरोना के चलते पांचवां और अंतिम टेस्ट मैच हुआ रद्द

Ind vs Eng

मैनचेस्टर। भारत और इंग्लैंड के बीच पांचवां और अंतिम टेस्ट मैच शुक्रवार को रद्द Ind vs Eng कर दिया गया क्योंकि कोविड-19 से जुड़ी चिंताओं के कारण मेहमान देश अपनी ‘टीम उतारने में असमर्थ’ था।

भारत के मुख्य कोच रवि शास्त्री और गेंदबाजी कोच भरत अरुण के बाद सहायक फिजियो योगेश परमार के कोविड-19 के लिये पॉजिटिव Ind vs Eng पाये जाने के बाद खिलाड़ियों पर खतरा मंडरा रहा था।

इस मैच के दौरान संक्रमण फैलने का डर भी था जिससे टॉस किये जाने के दो घंटे पहले इसे रद्द कर दिया गया। इंग्लैंड एवं वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) ने जो शुरुआती बयान जारी किया था उसमें स्पष्ट तौर पर मैच गंवाने का जिक्र किया गया था लेकिन संशोधित मीडिया विज्ञप्ति में इसे Ind vs Eng हटा दिया गया।

ईसीबी ने बयान में कहा, ‘‘भारतीय खेमे में आगे कोविड के मामले बढ़ने की आशंका को देखते हुए भारत अपनी टीम उतारने में असमर्थ है।’’पता चला है कि कप्तान विराट कोहली और अन्य खिलाड़ी मैच में नहीं खेलना चाहते थे। Ind vs Eng भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) के अधिकारी भी उन्हें मैच खेलने के लिये नहीं मना पाये।

भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) ने भी बयान जारी करके उम्मीद व्यक्त की कि मैच Ind vs Eng बाद में किसी समय आयोजित किया जा सकता है।बीसीसीआई सचिव जय शाह ने कहा, ‘बीसीसीआई और ईसीबी के बीच मजबूत संबंधों को देखते हुए बीसीसीआई ने ईसीबी को रद्द किए गए टेस्ट मैच को फिर से आयोजित करने की पेशकश की है।

दोनों बोर्ड इस टेस्ट मैच को फिर से आयोजित Ind vs Eng करने की दिशा में काम करेंगे।’कोविड से जुड़े पृथकवास का मतलब है कि खिलाड़ी 19 सितंबर से शुरू होने वाले इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के मैचों में नहीं खेल पाते।

ईसीबी ने बयान में कहा, ‘‘बीसीसीआई के साथ चल रही बातचीत के बाद ईसीबी पुष्टि कर सकता है कि इंग्लैंड और भारत के बीच आज से ओल्ड ट्रैफर्ड में शुरू होने वाला Ind vs Eng पांचवां टेस्ट मैच रद्द कर दिया जाएगा।’’

इसमें कहा गया है, ‘‘हम प्रशंसकों और अपने साझेदारों से माफी मांगते हैं। हमें पता है कि इस समाचार से कई लोगों को बहुत निराशा और असुविधा होगी।’’भारत श्रृंखला में 2-1 से आगे है लेकिन उसे विजेता घोषित नहीं किया गया है क्योंकि अगले साल जुलाई में जब भारतीय टीम Ind vs Eng सीमित ओवरों के छह मैच खेलने के लिये इंग्लैंड का दौरा करेगी तो तब पांचवां टेस्ट मैच खेला जा सकता है।

भारतीय खिलाड़ियों के परीक्षण नेगेटिव आने के बावजूद खेलने से इन्कार करने के बाद Ind vs Eng दोनों बोर्ड के बीच लगातार बातचीत होती रही।शाह ने कहा, ‘‘बीसीसीआई और ईसीबी ने टेस्ट मैच के आयोजन का रास्ता तलाशने के लिये कई दौर की बातचीत की, लेकिन भारतीय दल में कोविड-19 के मामले पाये जाने के कारण ओल्ड ट्रैफर्ड टेस्ट मैच को रद्द करने का निर्णय किया गया।’’

आखिर में कोहली और उनके साथियों ने जो आशंका व्यक्त की थी उसे ही प्राथमिकता Ind vs Eng दी गयी।शाह ने कहा, ‘‘बीसीसीआई हमेशा से कहता रहा है कि खिलाड़ियों की सुरक्षा सर्वोपरि है और इससे कोई समझौता नहीं किया जाएगा।’’

शाह ने इन मुश्किल परिस्थितियों को समझने के लिये ईसीबी का भी आभार व्यक्त Ind vs Eng किया। उन्होंने कहा, ‘‘बीसीसीआई इस मुश्किल समय में सहयोग और समझ के लिये ईसीबी का आभार व्यक्त करता है। हम प्रशंसकों से इस रोमांचक श्रृंखला को पूरी नहीं कर पाने के लिये माफी मांगते हैं।’’

भारत ने लार्ड्स में दूसरा टेस्ट मैच 151 रन और ओवल में चौथा टेस्ट मैच 157 रन से जीता था। इस बीच इंग्लैंड ने लीड्स में तीसरे टेस्ट मैच में पारी और 76 रन से जीत दर्ज की थी। Ind vs Eng नॉटिघम में खेला गया पहला मैच ड्रा रहा था।

समझा जाता है कि विश्व टेस्ट चैंपियनशिप Ind vs Eng  (डब्ल्यूटीसी) मैचों के लिये कोविड-19 नियमों में ‘गंवाना’ शब्द शामिल नहीं है और इससे ही कोहली और उनके साथियों के लिये इस मैच से हटने का रास्ता साफ हुआ था।

डब्ल्यूटीसी के मैचों से जुड़े नियमों के अनुसार कोविड-19 की पहचान स्वीकार्य अनुपालन के रूप में गयी है जो टीमों पर महत्वपूर्ण प्रभाव डाल सकता है।ऐसा इसलिए है क्योंकि मैच प्रतियोगिता में रद्द के रूप में दर्ज रह सकता है तथा जब अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) खेले गये मैचों में हासिल किये गये अंकों के आधार पर प्रतिशत अंक प्रणाली का उपयोग करेगी तब रद्द मैच किसी भी टीम के लिये अनुपयोगी रहेंगे।

बीसीसीआई सूत्रों के अनुसार खिलाड़ियों का परीक्षण नेगेटिव Ind vs Eng आया था लेकिन खिलाड़ी आगे परीक्षण पॉजिटिव आने की दशा में 10 दिन तक पृथकवास पर रहने का जोखिम नहीं उठाना चाहते थे। भारत और इंग्लैंड के खिलाड़ियों को एक ही विमान से उड़ान भरनी थी और मैच को एक या दो दिन टालने से अन्य दिक्कतें पैदा हो सकती थी।

भारतीय खेमे में सबसे पहले शास्त्री का परीक्षण पॉजिटिव आया था। उन्होंने लंदन में टीम होटल में अपनी पुस्तक का विमोचन किया था जिसके बाद उनमें Ind vs Eng लक्षण पाये गये थे। इस समारोह में बाहर से लोगों को आने की अनुमति दी गयी थी।

सूत्रों ने कहा, ‘‘इसकी कोई गारंटी नहीं है कि रवि शास्त्री की पुस्तक के विमोचन के बाद अधिक Ind vs Eng मामले नहीं होंगे। इसलिए खिलाड़ी विशेषकर 10 दिन तक पृथकवास पर रहने को लेकर सावधानी बरत रहे हैं।’’

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password