Breaking News: प्रदेश के इस जिले में घर-घर पहुंचाई जा रही शराब, देशी ठेकों से बेच रहे अंग्रेजी बोतलें

अजय नामदेव, शहडोल। प्रदेश के मंदसौर जिले में हाल ही में जहरीली शराब पीने से मौत का मामला थमा नहीं था कि इंदौर से भी कथित तौर पर ऐसी ही खबरें सामने आने लगी हैं। प्रदेश में अवैध शराब का कारोबार थमने का नाम नहीं ले रहा है। बीते महीनों में प्रदेश के मुरैना जिले में दो दर्जन लोगों की जहरीली शराब पीने से मौत हो गई थी। इसके बाद प्रदेश में काफी हड़कंप मचा था। जांच समिति बनी और जांच का परिणाम सरकारी फाइलों में दब गया। शराब को लेकर आबकारी विभाग के अफसरों की लापरवाही कोई नई बात नहीं है। अब प्रदेश के शहडोल में भी शराब को लेकर एक मामला सामने आया है। यहां धड़ल्ले से अंग्रेजी शराब की होम डिलेवरी की जा रही है। यहां शराब के ठेकेदार नियमों के विरुद्ध जाकर शराब को घर-घर पहुंचा रहे हैं। जिला मुख्यालय समेत जिले के बुढ़ार व्रत अंतर्गत बुढ़ार, धनपुरी, अमलाई में अंग्रेजी शराब की धड़ल्ले से होम डिलेवरी की जा रही है।

नियमों के विरुद्ध जाकर कर रहे डिलेवरी

बाइक से घर-घर शराब पहुंचा रहे शराब ठेकेदार के कर्मचारियों का कहना कि वे ठेकेदार के कहने पर घर-घर बाइक में शराब पहुंचा रहे हैं, इसमें उनका कोई दोष नहीं है। वे सिर्फ अपनी नौकरी कर रहे हैं। वहीं इस पूरे मामले में जिला आबकारी अधिकारी सुरेश राजोरे और आबकारी व्रत बुढ़ार उप निरीक्षक सुनील सिंह चंदेल कुछ भी कहने से बच रहे हैं, या फिर यूं कहें कि उनकी कमी उजागर होने के बाद से मीडिया के सामने आने से कतरा रहे हैं। कहने को तो जिले में आबकारी विभाग सबसे एक्टिव है और लगातार आदिवासी गरीबों के घरों में छापा मारकर कच्ची शराब पकड़ने की कार्रावाई कर वाहवाही लूट रही। जबकि इन आदिवसियों को सीमित मात्रा में शराब बनाने की सरकार ने छूट दी है। वहीं अंग्रेजी शराब ठेकेदारों द्वारा खुलेआम गली-गली बाइक घर-घर शराब पहुंचाई जा रही है। अब यह देखना होगा कि शराब ठेकेदारों की यह करतूत उजागर होने के बाद आबकारी विभाग इन पर कार्रवाही कर इसे रोकने में सफल रहती है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password