Barat Lekar Pahunchi Dulhan: सतना में घोड़ी पर सवार होकर नाचती बारात लेकर दूल्हे के घर पहुंची दुल्हन, देखते रह गए लोग

सतना। शादी के समय आपने दूल्हा धोड़े पर बैठकर दुल्हन को लेने जाते तो खूब देखा होगा। लेकिन क्या दुल्हन को घोड़ी पर बैठकर नाचती बारात लेकर दूल्हे के घर जाते देखा है? नहीं न…. ऐसा ही एक मामला सामने आया है प्रदेश के सतना जिले से। यहां एक दुल्हन घोड़ी पर सावर होकर नाचती बारात लेकर दूल्हे को लेने उसके घर पहुंचे गई। यह नजारा देख सभी की आंखें फटीं रह गईं।
यह है पूरा मामला
दरअसल सतना में रहने वाले बलेचा परिवार की इकलौती बेटी दीपा की शादी कोटा में हुई है। दीपा का बचपन से लड़कों की तरह घोड़े पर चढ़कर बारात ले जाने का सपना था। जब बेटी ने अपनी ख्वाहिश परिवार के लोगों को बताई तो वे भी मान गए। इसके बाद घोड़ी को सजाकर दीपा को घोड़ी पर बिठाया गया और बारात निकाली गई। दीपा के आस-पास बाराती जश्न में डूबे नाचते रहे। इसके बाद बारात बस में बैठकर कोटा की तरफ रवाना हो गई।
बेटी की ख्वाहिश पूरी होने पर खुश हैं घरवाले
दीपा के परिवार वालों ने कहा कि हमारी एक ही बेटी है। हम उससे सबसे ज्यादा प्यार करते हैं। हमने कभी लड़के और लड़की में फर्क नहीं किया। हमारी बेटी की ख्वाहिश थी तो हमने ऐतराज नहीं जताया। दीपा के घरवालों ने कहा कि सतना के वालेचा परिवार ने घोड़ी पर चढ़ने की बेटी की न केवल ख्वाहिश पूरी की है, बल्कि समाज को यह संदेश भी दिया है कि बेटियां किसी पर बोझ नहीं, बेटा और बेटी में कोई अंतर भी नहीं, जितना अधिकार समाज मे बेटों को है उतना ही अधिकार बेटियों को भी दिया जाए। सतना के कृष्ण नगर इलाके में रहने वाले नरेश बलेजा की इकलौती बेटी दीपा की शादी का यह जश्न जिसने भी देखा उसने इस पहल की तारीफ की है। कई लोगों का मानना है कि इससे रुढ़िवादिता सोच से ऊपर उठने में मदद मिलेगी।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password