CoronaVirus in India: कोरोना पर लगाम के लिए अहम फैसले,आज PM ने ऑक्सीजन सप्लाई अधिकारियों के साथ की हाईलेवल मीटिंग

नई दिल्‍ली। देश में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के चलते ऑक्‍सीजन की किल्‍लत हो गई है। ऑक्‍सीजन की आपूर्ति को दुरुस्‍त करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुद कमान संभाल ली है। प्रधानमंत्री मोदी ऑक्सीजन की आपूर्ति की समीक्षा करने और इसकी उपलब्धता को बढ़ाने के तरीकों और साधनों पर चर्चा करने के लिए एक उच्च स्तरीय बैठक की। समाचार एजेंसी एएनआइ ने प्रधानमंत्री कार्यालय यानी पीएमओ के हवाले से बताया कि इस बैठक में अधिकारियों ने पीएम मोदी को पिछले कुछ हफ्तों में ऑक्सीजन की आपूर्ति में सुधार के लिए किए जा रहे प्रयासों पर जानकारी दी।

 

प्रधानमंत्री कार्यालय (Prime Minister’s Office, PMO) ने बताया कि इस बैठक में पीएम मोदी ने अधिकारियों से ऑक्सीजन की उपलब्धता बढ़ाने के लिए तीन उपाय बताए। पहला ऑक्सीजन का उत्पादन बढ़ाने, दूसरा उपाय ऑक्‍सीजन के वितरण की गति तेज करने और तीसरा स्वास्थ्य सुविधाओं यानी अस्‍पतालों तक ऑक्‍सीजन की पहुंच सुनिश्चित करने के लिए तेज गति से काम करने को कहा

20 राज्‍यों में 6,785 मीट्रिक टन लिक्विड ऑक्सीजन की जरूरत

इस बैठक में अधिकारियों की ओर से प्रधानमंत्री को बताया गया की ऑक्‍सीजन की मांग की पहचान करने और उसकी पर्याप्त आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए राज्यों के साथ समन्वय किया जा रहा है। अधिकारियों ने बताया कि मौजूदा वक्‍त में देश के 20 राज्‍यों में रोजाना 6,785 मीट्रिक टन लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन की जरूरत है जिसके जवाब में 21 अप्रैल से रोजाना इन राज्यों को 6,822 मीट्रिक टन ऑक्‍सीजन की आपूर्ति की गई है।

3,300 मीट्रिक टन दिन की वृद्धि हुई-pm

प्रधानमंत्री को यह भी जानकारी दी गई कि पिछले कुछ दिनों में निजी और सार्वजनिक इस्पात संयंत्रों, उद्योगों और ऑक्सीजन निर्माताओं के योगदान से लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन की उपलब्धता में रोजाना 3,300 मीट्रिक टन दिन की वृद्धि हुई है। अधिकारियों ने पीएम को सूचित किया कि वे जल्द से जल्द पीएसए ऑक्सीजन संयंत्रों के संचालन के लिए राज्यों के साथ मिलकर काम कर रहे हैं। प्रधानमंत्री मोदी ने अधिकारियों को यह सुनिश्चित करने को कहा कि राज्यों को ऑक्‍सीजन की आपूर्ति सुचारू, निर्बाध तरीके से हो।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password