आईएफएफआई केवल सरकार की जिम्मेदारी नहीं, फिल्म उद्योग को भी साझेदारी करनी चाहिए

पणजी, 16 जनवरी (भाषा) केंद्रीय सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावडेकर ने शनिवार को फिल्म उद्योग और अन्य क्षेत्रों से भारतीय अंतरराष्ट्रीय फिल्म महोत्सव (आईएफएफआई) के आयोजन में सरकार के साथ साझेदारी का आग्रह किया।

वार्षिक फिल्म समारोह के उद्घाटन समारोह को संबोधित करते हुए जावडेकर ने कहा कि ऐसे आयोजनों में गैर-सरकारी क्षेत्रों से सक्रिय भागीदारी की जरूरत है।

जावडेकर ने अपने संबोधन में कहा, ‘‘हर साल केंद्र सरकार और गोवा सरकार आईएफएफआई का आयोजन करते हैं। क्यों? फिल्म उद्योग और अन्य उद्योगों से साझेदारी होनी चाहिए।’’

उन्होंने कहा, ‘‘सरकार की जिम्मेदारी कला और संस्कृति का माहौल बनाने और इन्हें बढ़ावा देने की है, इसका मतलब यह नहीं है कि सरकार को ही सबकुछ करना चाहिए।’’

मंत्री ने भविष्य में इस महोत्सव में निजी क्षेत्र के लोगों को भागीदारी के लिए आमंत्रित किया।

51वें आईएफएफआई का आज यहां उद्घाटन हुआ। कोरोना वायरस महामारी के कारण नवंबर, 2020 में इसका आयोजन स्थगित कर दिया गया था। समारोह 24 जनवरी तक चलेगा।

समारोह यहां डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी इनडोर स्टेडियम में आयोजित किया गया।

समारोह मिश्रित तरीके से आयोजित किया जा रहा है, जहां प्रतिनिधि डिजिटल तरीके से शामिल हो सकते हैं और फिल्में देख सकते हैं।

उन्होंने कहा, ‘‘सात थियेटरों में फिल्मों की स्क्रीनिंग होगी, लेकिन सभी प्रतिनिधियों के लिए ऑनलाइन देखने की सुविधा होगी। यह तकनीक के लिहाज से बदलता समय है और हम उससे लाभ प्राप्त कर रहे हैं।’’

जावडेकर ने घोषणा की कि ‘इंडियन पर्सनलिटी ऑफ द ईयर पुरस्कार’ जानेमाने अभिनेता-फिल्मकार बिस्वजीत चटर्जी को दिया जाएगा।

भाषा वैभव उमा

उमा

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password