UPSC Exam Tips : UPSC पास करने के लिए करती होती है इतने घंटे पढ़ाई? तब बनते है अफसर

UPSC Exam Tips : UPSC पास करने के लिए करती होती है इतने घंटे पढ़ाई? तब बनते है अफसर

UPSC Exam Tips : आज का लगभग हर युवा देश की सेवा करने की इच्छा रखता हैं। खास तौर पर संघ लोक सेवा आयोग की सिविल सेवा परीक्षा (UPSC) पास करके अफसर बनने की चाहत। हालांकि यूपीएससी परीक्षा (UPSC) सबसे कठिन परक्षिाओं में से एक होती है। यूपीएससी (UPSC) के एग्जाम में प्रत्येक साल लाखों छात्र शामिल होते है। लेकिन कुछ को सफलता हांसिल होती है तो किसी को निराशा हाथ लगती है, लेकिन क्या आपको पता है कि यूपीएससी (UPSC) की परीक्षा पास करने के लिए विद्यार्थी को कितने की घंटे की पढ़ाई करनी होती है। तो आइए बताते है कि सिविल सेवा परीक्षा पास (UPSC) करने के लिए एक स्टूडेंट को कितने घंटे की मेहनत करनी होती है।

इतने घंटे करें पढ़ाई?

सिविल सर्विस एग्जाम (UPSC) 2021 में 52वीं रैंक हासिल करने वाले आईएएस अफसर अंकुर दास (IAS officer Ankur Das) के अनुसार उनकी सफलता के पीछे सबसे बड़ा योगदान निरंतरता है। एकाग्रता के साथ पढ़ाई पर ध्यान, अच्छे नोट्स बनाना, समय समय पर पढ़ाई करने पर ही कोई भी छात्रा इस कठिन परीक्षा को पास कर सकता है। आईएएस अंकुर दास (IAS officer Ankur Das) ने कहा है कि जब से उन्होंने यूपीएससी (UPSC) निकाली है तभी से ही उनके पास कई विद्यार्थी आ रहे है। उनका कहना है कि कई युवा उनसे कहते है कि उन्हें अपने आप पर पूरा विश्वास है कि वह भी सफलात हांसिल कर सकते है।

कौन है आईएएस अंकुर दास (IAS officer Ankur Das)

आपको बता दें कि अंकुर दास (IAS officer Ankur Das) ने सिविल सर्विस एग्जाम 2021 में 52वीं रैंक हांसिल की थी। वह शिलॉन्ग के जेल रोड के रहने वाले है। उन्होंने शिलॉन्ग के सेंट एडमंड्स से अपनी शिक्षा पूरी की थी इसके बाद उन्होंने आर्मी पब्लिक स्कूल से उच्च शिक्षा हासिल की। अंकुर दास (IAS officer Ankur Das) ने साल 2011 में भारतीय माध्यमिक शिक्षा प्रमाणपत्र में दूसरा स्थान हासिल किया था। उन्होंने अपनी 12वीं के बाद नोएडा के एमिटी यूनिवर्सिटी से बीटेक की डिग्री हासिल की। बीटेक करने के बाद अंकुर (IAS officer Ankur Das) ने यूपीएससी एग्जाम (UPSC) की तैयारी शुरू कर दी। साल 2013 में वह दिल्ली में रहने लगे। अंकुर दास (IAS officer Ankur Das) के पिता असिस्टेंट कमीश्नर ऑफ कस्टम एंड जीएसटी के पद पर कार्यरत थे अंकुर (IAS officer Ankur Das) कहते है कि उन्हें अपने पिता से बड़ी प्रेरणा मिली। बीटेक के बाद यूपीएससी एग्जाम (UPSC) की तैयारी शुरू करने के बाद वह 2018 में पहली बार यूपीएससी की परीक्षा (UPSC) में शामिल हुए, लेकिन उन्हें सफलता नहीं मिली। इसके बाद अंकुर (IAS officer Ankur Das) ने तीन बार और एग्जाम दिए, लेकिन वह परीक्षा पास नहीं कर सके। लेकिन पांचवे राउंड में उन्हें आखिरकार सफलता मिल ही गई। और आईएएस अफसर (IAS officer Ankur Das) बनने का सपना पूरा किया।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password