मुस्लिमों को गौरक्षा की सलाह देने वाले, कौन हैं IAS नियाज खान

IAS Niyaz Khan: मुस्लिमों को गौरक्षा की सलाह देने वाले, कौन हैं IAS नियाज खान

IAS-niyaz-khan-mp-news-bhopal-news
Share This

भोपाल। IAS Niyaz Khan: मध्यप्रदेश के साथ-साथ पूरे देश में इन दिनों धर्म परिवर्तन और लव जिहाद के मामले सामने आ रहे हैं। दमोह हिजाब पोस्टर विवाद भी इसे का हिस्सा माना जा रहा है। ऐसे में मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) कैडर के आईएएस अधिकारी नियाज खान का एक ट्वीट चर्चाओं में बना है। जिसमें उन्होंने मुसलमानों को गोरक्षा की सलाह दी है। साथ ही कहा है कि जबरन धर्म बदलवाना इस्लाम में प्रतिबंधित है। आपको बता दें IAS नियाज खान हिन्दू धर्म के साथ-साथ विशेष रूप से ब्राहृण से प्रभावित हैं। इसके पहले ब्राहृणों को लेकर पहले किताबें भी लिख चुके हैं।

क्या लिखा है IAS नियाज खान ने ट्विटर में – IAS Niyaz Khan

  • आईएसएस नियाज खान ने अपने ट्विटर हैंडल से एक पोस्ट किया है। जिसमें उन्होंने लिखा है कि मुस्लिम भाई भी गौ रक्षक बनें, धर्म परिवर्तन का विरोध करें, किसी का धर्म न बदलवाएं। जबरन धर्म बदलवाना इस्लाम में प्रतिबंधित है। अगर शाकाहार अपना सकें तो यह एक बेहतरीन प्रयास होगा। यद्यपि शाकाहारी बनने को बाध्य नही किया जा सकता। हर मुस्लिम भाई ब्राह्मणों से मधुर संबंध रखें।
  • मेरे हर interview में या मेरे ब्राह्मणों की श्रेष्ठता पर किए गए ट्वीट पर चार पांच पर्सेंट ब्राह्मण मेरा विरोध करते हैं यहां तक कि अपमानजनक भाषा का प्रयोग करते हैं, पर खुशी की बात यह है पूरे देश के अधिकतर ब्राह्मण मेरी पुस्तक के साथ हैं। जो मेरे से नाराज हैं मैं कारण समझ नहीं पाया।
  • कई बार जब मैं गिने चुने ब्राह्मण भाइयों को पूरे देश में पब्लिक मंच पर आकर गाली गलौच करते देखता हूं तो मैं सोंच में पड़ जाता हूं, कि सर्वोच्च योग्यता रखने वालों की यह दशा किसने की? ब्राह्मणों के मुख से सदा ही अमृत के शब्द बरसते थे, ये स्थिति क्यों हुई। गंभीर विषय है। संभालना होगा।
  • ये दुर्भाग्य का विषय है कि हम आज तक पूरी दुनियां में मुस्लिम भाइयों को मानव की समानता का पाठ नही पढ़ा सके। महिलाएं आसानी से घर से बच्चों सहित निकाल दी जाती हैं। तलाक के तीन शब्द किसी तेजाब से कम नहीं है जो एक झटके में मुस्लिम महिला को सड़क पर ला देता है। उसका दर्द कौन देखे?

MP Hukka Bar Ban: एमपी में बंद होंगे हुक्का बार, राष्ट्रपति ने हुक्का बार प्रतिबंध बिल को दी मंजूरी

ब्राहृण द ग्रेट पुस्तक लिखी

आईएएस नियाज खान हाल ही में ब्राह्मणों पर ‘ब्राह्मण द ग्रेट’ नाम की किताब लिख चुके हैं। जिसमें उन्होंने ब्राह्मणों के बारे में कई अहम बातें लिखी हैं। चार महीने पहले मार्केट में आई इस किताब में उन्होंने लिखा कि जब-जब सड़क पर चोटी-जनेऊधारी ब्राह्मण नंगे पांव निकलता है तो वह साक्षात भगवान का रूप होता है। अपने बयानों और किताबों को लेकर विवादों में रहने वाले नियाज की यह सातवीं किताब है।

कौन हैं IAS अफसर नियाज खान

नियाज खान मध्यप्रदेश कैडर के आईएएस अधिकारी हैं। फिलहाल लोक निर्माण विभाग में उपसचिव के पद पर तैनात हैं। वे कई किताब लिख चुके हैं। नियाज खान अपने धर्म की हिंसक छवि को मिटाने के लिए भी रिसर्च कर रहे हैं। उनके अनुसार इस्लाम के बदनाम होने के पीछे कई संगठनों की खराब छवि है।

युवा आईएएस नियाज खान दुनिया में इस्लाम की छवि सुधारने के लिए कुरान पर शोध कर रहें हैं। वे मोहम्मद साहब के जीवन पर लिखी किताबों का अध्ययन कर अपनी रिसर्च बुक यूरोप से प्रकाशित करवाना चाहते हैं। नियाज खान का दावा हैं कि वो सभी धर्मों में आस्था रखते हैं और वे शाकाहारी हैं।

आश्रम वेबसीरीज का मामला कोर्ट में

नियाज खान (IAS Niyaz Khan) लेखन कार्य में रुचि रखते हैं। वे अभी तक छह से अधिक उपन्यास भी लिख चुकें हैं। उनके एक उपन्यास पर आश्रम वेबसीरीज बनी है। जिसका क्रेडिट न मिलने पर नियाज खान ने आश्रम के निर्माता निर्देशक और कलाकार के खिलाफ न्यायालय में मामला दर्ज किया था।

Hair Care Tips: कैसे और कब धोना चाहिए बाल, क्या होती है इंवर्जन मैथड, जिससे कम होता है Hair Fall

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password