फैमिली कोर्ट पहुंचा पति कहा- मौत से पहले चाहता हूं तलाक, ताकि पत्नी कर सके दूसरी शादी

भोपाल: फैमिली कोर्ट में यूं तो आए दिन कई तलाक के मामले पहुंचते हैं, जिनके कारण पति पत्नी के बीच ना बनने से जुड़े होते हैं। इसी कारण वे एक दूसरे से तलाक लेने पहुंचते हैं, लेकिन इस बार फैमिली कोर्ट में एक पति अपनी पत्नी तलाक लेने तो पहुंचा लेकिन उसने जो कारण बताया उससे सभी भावुक हो गए।

दरअसल, एक पति अपनी पत्नी से तलाक की अर्जी लेकर फैमिली कोर्ट पहुंचा। पति का कहना है कि उसने बोन कैंसर है और वह आखिरी स्टेज से गुजर रहा है। वह चाहता है कि 10 साल से साथ निभा रही उसकी पत्नी उससे तलाक लेकर किसी और से शादी कर ले। जिससे की उसका आगे का जीवन खुशहाली से बीता सके।

फैमिली कोर्ट में पहुंचे इस मामले में फिलवक्त एडवोकेट सरिता राजानी काउंसलिंग कर रही हैं। काउंसलिंग के दौरान पति ने व्यथित कर देने वाली दास्तां सुनाई और बताया कि ‘मैं बस चंद महीनों का मेहमान हूं, लेकिन मुझे अपनी जिंदगी की नहीं, बल्कि पत्नी की फिक्र ज्यादा है। मैं नहीं रहा तो वो दरबदर हो जाएगी। बस इसीलिए उससे तलाक चाहता हूं। मेरी इस अर्जी की मंजूरी दिलवा दीजिए। मेरी आखिरी तमन्ना समझकर ही सही, वरना मैं चैन से मर भी नहीं सकूंगा।’

राकेश ने बताया, परिवार उसकी पत्नी को पसंद नहीं करता। ऐसे में उसकी मौत के बाद अंदेशा है कि पत्नी को संपत्ति से बेदखल कर दिया जाएगा। राकेश ने बताया, शादी के कुछ समय बाद से ही वह बीमार रहने लगा था, लेकिन पत्नी ने उसका साथ नहीं छोड़ा। इसलिए वह चाहता है कि उसके जाने के बाद पत्नी को जायदाद में हिस्सा मिल जाए और वह दूसरे व्यक्ति से शादी करके अपनी आगे की जिंदगी अच्छे से बीता सके। जब कुटुंब न्यायालय की काउंसलर व एडवोकेट सरिता राजानी ने सुनी तो वह भी भावुक हो उठीं। मामला अभी कुटुंब न्यायालय में विचाराधीन है।

क्या कहना है पत्नी का

पत्नी का कहना है कि- उन्होंने कहा ये आखिरी सलाह और मान लो: पी़ड़ित ने बताया कि उनकी पत्नी पहले तलाक के लिए तैयार नहीं थी। उसने पत्नी को समझाया कि 10 साल में जब उसने हर बात मानी है, तो अब आखिरी इच्छा मान लो।

मकान बेचने की सलाह से नाराज है सास: पत्नी ने काउंसलिंग में बताया, उनका 1 करोड़ का मकान है। 6 साल पहले उसने सास से मकान को बेचकर दूसरा मकान व बाकी पैसों से पति के लिए दुकान खरीदने की सलाह दी थी। इसी बात से सास नाराज हैं।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password