अस्पताल आग: महाराष्ट्र में जांच समिति ने कर्मचारियों के बयान दर्ज करना शुरु किया -



अस्पताल आग: महाराष्ट्र में जांच समिति ने कर्मचारियों के बयान दर्ज करना शुरु किया

नागपुर, 10 जनवरी (भाषा)महाराष्ट्र के भंडारा अस्पताल में आग लगने की घटना की जांच के लिए महाराष्ट्र सरकार द्वारा बनाई गई एक जांच समिति ने अस्पताल के कर्मचारियों के बयान दर्ज करना शुरू कर दिया है। शनिवार को इस आग में 10 नवजात शिशुओं की मौत हो गई थी।

नागपुर से करीब 65 किलोमीटर दूर पूर्वी महाराष्ट्र के भंडारा शहर में चार मंजिला जिला अस्पताल की स्पेशल नवजात देखभाल इकाई में शनिवार को आग लग गई थी।

महाराष्ट्र सरकार ने शनिवार को इस घटना की जांच के लिए स्वास्थ्य विभाग के निदेशक के नेतृत्व में छह सदस्यीय टीम के गठन की घोषणा की। टीम को तीन दिन के भीतर अपनी रिपोर्ट सौंपने का निर्देश दिया गया।

टीम का नेतृत्व नागपुर प्रमंडलीय आयुक्त संजीव कुमार कर रहे हैं।

समिति का काम आग लगने के पीछे के कारण और खामियों का पता लगाना है।

अधिकारी ने कहा कि जांच टीम राज्य के किसी भी अस्पताल में ऐसी घटनाओं की पुनरावृत्ति रोकने के लिए सुझाव देने के अलावा अग्नि सुरक्षा उपायों और अन्य तकनीकी कारकों की भी समीक्षा करेगी।

उन्होंने पीटीआई-भाषा से कहा कि आग की घटना में जांच शुरू कर दी गई है और कर्मचारियों के बयानों की रिकॉर्डिंग चल रही है ।

उन्होंने कहा कि समिति जल्द से जल्द अपनी रिपोर्ट सौंपेगी।

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने अस्पताल में आग लगने से मारे गए नवजात शिशुओं के परिजनों से मुलाकात की और कहा कि राज्य के सभी अस्पतालों का सुरक्षा ऑडिट कराने के आदेश जारी कर दिए गए हैं ।

संवाददाताओं से बातचीत में ठाकरे ने कहा कि जांच से यह पता लगाया जाएगा कि आग एक दुर्घटना थी या पहले की सुरक्षा रिपोर्ट की अनदेखी का नतीजा थी।

भाषा शुभांशि नरेश

नरेश

Share This

अस्पताल आग: महाराष्ट्र में जांच समिति ने कर्मचारियों के बयान दर्ज करना शुरु किया

नागपुर, 10 जनवरी (भाषा)महाराष्ट्र के भंडारा अस्पताल में आग लगने की घटना की जांच के लिए महाराष्ट्र सरकार द्वारा बनाई गई एक जांच समिति ने अस्पताल के कर्मचारियों के बयान दर्ज करना शुरू कर दिया है। शनिवार को इस आग में 10 नवजात शिशुओं की मौत हो गई थी।

नागपुर से करीब 65 किलोमीटर दूर पूर्वी महाराष्ट्र के भंडारा शहर में चार मंजिला जिला अस्पताल की स्पेशल नवजात देखभाल इकाई में शनिवार को आग लग गई थी।

महाराष्ट्र सरकार ने शनिवार को इस घटना की जांच के लिए स्वास्थ्य विभाग के निदेशक के नेतृत्व में छह सदस्यीय टीम के गठन की घोषणा की। टीम को तीन दिन के भीतर अपनी रिपोर्ट सौंपने का निर्देश दिया गया।

टीम का नेतृत्व नागपुर प्रमंडलीय आयुक्त संजीव कुमार कर रहे हैं।

समिति का काम आग लगने के पीछे के कारण और खामियों का पता लगाना है।

अधिकारी ने कहा कि जांच टीम राज्य के किसी भी अस्पताल में ऐसी घटनाओं की पुनरावृत्ति रोकने के लिए सुझाव देने के अलावा अग्नि सुरक्षा उपायों और अन्य तकनीकी कारकों की भी समीक्षा करेगी।

उन्होंने पीटीआई-भाषा से कहा कि आग की घटना में जांच शुरू कर दी गई है और कर्मचारियों के बयानों की रिकॉर्डिंग चल रही है ।

उन्होंने कहा कि समिति जल्द से जल्द अपनी रिपोर्ट सौंपेगी।

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने अस्पताल में आग लगने से मारे गए नवजात शिशुओं के परिजनों से मुलाकात की और कहा कि राज्य के सभी अस्पतालों का सुरक्षा ऑडिट कराने के आदेश जारी कर दिए गए हैं ।

संवाददाताओं से बातचीत में ठाकरे ने कहा कि जांच से यह पता लगाया जाएगा कि आग एक दुर्घटना थी या पहले की सुरक्षा रिपोर्ट की अनदेखी का नतीजा थी।

भाषा शुभांशि नरेश

नरेश

Share This

0 Comments

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password