Postal stamp on 1 year of vaccination : कोविड-19 टीकाकरण अभियान का एक वर्ष पूरा होने स्वास्थ्य मंत्री ने जारी की डाक टिकट

नई दिल्ली। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने कोविड-19 टीकाकरण अभियान का एक वर्ष पूरा होने के उपलक्ष्य में, स्वदेश विकसित टीके ‘कोवैक्सीन’ पर डाक टिकट जारी करते हुए कहा कि भारत की 70 प्रतिशत वयस्क आबादी को कोविड रोधी टीके की दोनों खुराकें मिल चुकी हैं जबकि 93 प्रतिशत ने पहली खुराक ले ली है।

पिछले साल शुरू हुआ था टीकाकरण अभियान

टीकाकरण अभियान पिछले साल 16 जनवरी से शुरु हुआ जब पहले चरण में स्वास्थ्य कर्मियों को टीका लगाया गया था। वीडियो लिंक के जरिए स्मारक डाक टिकट जारी करने के कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मांडविया ने कहा कि यह भारतीयों के लिए गर्व का क्षण है और पूरी दुनिया देश के कोविड टीकाकरण अभियान को देखकर दंग है। उन्होंने कहा, “इतनी विशाल आबादी और विविधता के बावजूद भारत ने 156 करोड़ खुराकें देने की उपलब्धि हासिल की है।’’ मंत्री ने कहा, “कोविड टीकाकरण अभियान के एक वर्ष पूर्ण होने के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के आत्मनिर्भर भारत के सपने को साकार करते हुए आईसीएमआर और भारत बायोटेक द्वारा संयुक्त रूप से विकसित टीके पर डाक टिकट जारी किया गया है।” उन्होंने इस अवसर पर सभी वैज्ञानिकों को भी बधाई दी। मांडविया ने कहा, “हमारे प्रधानमंत्री ने वैज्ञानिकों को अनुसंधान करने और एक स्वदेशी कोविड टीका विकसित करने के लिए प्रोत्साहित किया और टीका निर्माण कंपनियों के साथ चर्चा कर उन्हें समर्थन की पेशकश की।”स्वास्थ्य मंत्री ने कहा, “मानव शक्ति या दिमागी शक्ति का कोई अभाव नहीं था। जरूरत इस बात की थी कि देश में टीकों को विकसित करने की क्षमता की पहचान की जा सके।’

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password