छग में स्वास्थ्य विभाग के प्रवक्ता डॉ. सुभाष पांडेय का कोरोना से निधन

रायपुर: छत्तीसगढ़ में स्वास्थ्य विभाग के प्रवक्ता डॉ. सुभाष पाण्डेय का कोरोना से निधन हो गया। डॉक्टर पाण्डेय कोविड-19 नियंत्रण अभियान के प्रदेश नोडल अधिकारी के साथ ही वरिष्ठ शिशु रोग विशेषज्ञ भी थे। बताया जा रहा है कि तीन दिन पहले उन्हें कोरोना संक्रमण की पुष्टि के बाद रायपुर एम्स में भर्ती कराया गया था। इलाज के दौरान बुधवार सुबह उनके निधन की खबर आई।

2020 में भी हुए कोरोना से संक्रमित

डॉक्टर सुभाष पांडेय को दूसरी बार कोरोना हुआ था। बताया जा रहा है कि इससे पहले उन्हें साल 2020 में भी संक्रमण हुआ था। तब उन्होंने महामारी को मात देकर वापसी की। दुर्भाग्य से इस बार ऐसा नहीं हो पाया और वायरस से लड़ते हुए उनका निधन हो गया। कोरोना वैक्सीन के भी उन्होंने दोनों डोज लिए थे।

कोरोना से जुड़े आंकड़े को मीडिया के समक्ष रखने की जिम्मेदारी डॉ. पांडेय के पास ही थी। उन्हें अक्टूबर 2020 में उन्हें स्वास्थ्य विभाग का प्रवक्ता बनाया गया था। अधिकारियों ने बताया, डॉक्टर पाण्डेय इसी साल सेवा से रिटायर होने वाले थे। उनके परिवार में पत्नी, बेटी सहित कई डॉक्टर हैं।

डॉ. पाण्डेय की देखरेख में हुआ होम आइसोलेशन का ट्रायल

स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के मुताबिक, पिछले साल रायपुर में होम आइसोलेशन व्यवस्था के ट्रायल की निगरानी करने वाले 6 डॉक्टरों में डॉ. पाण्डेय भी एक थे। वे राज्य स्तरीय डेथ ऑडिट कमेटी के अध्यक्ष भी थे।

प्रदेश में एक्टिव मरीजों की संख्या

प्रदेशभर में अब एक्टिव मरीजों की संख्या 109139 हो चुकी है। कुल पीड़ितों की संख्या हुई बढ़कर 471994 तक पहुंच गई है। बात अगर रिकवरी की करें तो प्रदेश में अब तक 357668 लोगों ने कोरोना को मात दी है। सबसे ज्यादा डराने वाले आंकड़े मौत के हैं। रोज मौत के आकड़ो में बढ़ोत्तरी के कारण प्रदेश में अब तक 5187 लोगों की मौत हो चुकी है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password