MCC के आजीवन सदस्य बनें हरभजन सिंह और जवागल श्रीनाथ

Harbhajan Singh

लंदन। भारतीय स्पिनर हरभजन सिंह और पूर्व तेज गेंदबाज जवागल श्रीनाथ उन 18 क्रिकेटरों में शामिल है जिन्हें मेरिलबोन क्रिकेट क्लब (एमसीसी) ने मंगलवार को मानद आजीवन सदस्यता प्रदान की।लंदन स्थित एमसीसी को क्रिकेट नियमों का संरक्षक माना जाता है। हरभजन और श्रीनाथ का अंतरराष्ट्रीय करियर शानदार रहा है। हरभजन के नाम 103 टेस्ट में 417 विकेट दर्ज हैं और वह खेल के इस प्रारूप में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले भारतीयों में तीसरे नंबर पर हैं।

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के सभी प्रारूपों में उन्होंने 700 से ज्यादा विकेट लिये हैं।श्रीनाथ अभी आईसीसी (अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद) के एलीट पैनल (शीर्ष स्तर) के मैच रेफरी है। वह भारत के महान तेज गेंदबाजों में शामिल हैं । उन्होंने एकदिवसीय में 315 और टेस्ट में 236 विकेट लिये हैं।एमसीसी ने यहां जारी बयान में कहा, ‘‘ इस साल की सूची में 12 टेस्ट खेलने वाले देशों में से आठ को प्रतिनिधित्व दिया गया है, जिसमें आधुनिक खेल के कुछ सबसे लोकप्रिय खिलाड़ी भी शामिल है।’’भारत के दो खिलाड़ियों के अलावा इंग्लैंड और दक्षिण अफ्रीका के चार-चार खिलाड़ियों को यह सम्मान दिया गया है। इसमें वेस्टइंडीज के तीन, ऑस्ट्रेलिया के दो और न्यूजीलैंड, जिम्बाब्वे तथा श्रीलंका के एक – एक खिलाड़ी शामिल हैं।

इंग्लैंड के लिए टेस्ट में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले पूर्व कप्तान एलिस्टेयर कुक के अलावा इयान बेल और मार्कस ट्रेस्कोथिक को आजीवन सदस्यता का सम्मान मिला है। इन तीनों ने मिलकर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 39,000 से अधिक रन बनाये है। इस सूची में चौथा नाम महिला विकेटकीपर बल्लेबाज साराह टेलर का है। दक्षिण अफ्रीका के जिन दिग्गजों को मानद आजीवन सदस्यता से सम्मानित किया गया है उसमें हाशिम अमला, हर्शल गिब्स, जॉक कैलिस और मोर्ने मोर्कल शामिल हैं। इस सूची में ऑस्ट्रेलिया से महिला बल्लेबाज एलेक्स ब्लैकवेल और कलात्मक बल्लेबाज डेमियन मार्टिन शामिल हैं।

इयान बिशप, शिवनारायण चंद्रपॉल और रामनरेश सरवन इसमें वेस्टइंडीज का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं।टेस्ट क्रिकेट में 433 विकेट लेने वाले श्रीलंका के रंगना हेराथ को भी मानद आजीवन सदस्यता दी गयी है। आजीवन सदस्यता का सम्मान पाने वालों में न्यूजीलैंड की महिला क्रिकेटर सारा मैकग्लाशन और जिम्बाब्वे के हरफनमौला ग्रांट फ्लावर भी शामिल हैं।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password