Guna Women Burn Alive: 45 वर्षीय आदिवासी महिला को जिंदा जलाने का प्रयास

Guna Women Burn Alive: 45 वर्षीय आदिवासी महिला को जिंदा जलाने का प्रयास, 80% तक झुलसी

गुना। Guna Women Burn Alive  मध्य प्रदेश के गुना जिले में भूमि विवाद को लेकर तीन लोगों ने 45 वर्षीय एक आदिवासी महिला पर कथित तौर पर ज्वलनशील पदार्थ डालकर आग लगा दी, जिससे वह गंभीर रूप से झुलस गई। यह जानकारी पुलिस ने रविवार को दी है।

जानें क्या है पूरा मामला

गुना के पुलिस अधीक्षक पंकज श्रीवास्तव ने बताया कि यह घटना शनिवार दोपहर प्रदेश की राजधानी भोपाल से करीब 200 किलोमीटर दूर बमोरी पुलिस थानांतर्गत धनोरिया गांव में हुई और रामप्यारी बाई नाम की इस महिला की हालत गंभीर बनी हुई है। उन्होंने कहा कि अब तक दो आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है, जबकि तीसरे व्यक्ति की तलाश जारी है, जो फरार है। आरोपियों द्वारा इस घटना का कथित रूप से एक वीडियो भी बनाया गया है, जो सोशल मीडिया पर देखा गया है। इसमें नजर आ रहा है एक खेत में इस महिला के शरीर पर आग लगी हुई है, जिससे उसके चारों तरफ धुआं हो गया है। यह महिला दर्द से कराह रही है और वीडियो बनाने वाले यह कहते हुए सुनाई दे रहे हैं कि इस महिला ने खुद पर आग लगाई है, हम तो वीडियो बना लेते हैं।

पुलिस ने दी जानकारी

श्रीवास्तव ने बताया कि महिला के पति अर्जुन सहरिया ने पुलिस को शिकायत में कहा कि शनिवार दोपहर दो बजे जब वह अपने खेत में पहुंचा तो उसकी पत्नी रामप्यारी बाई खेत में जली हुई अवस्था में मिली और उसने पूछने पर बताया कि गांव के तीन लोगों प्रताप, हनुमत और श्याम किरार ने उसे जलाया है। उन्होंने कहा कि पीड़ित महिला के परिवार का इन आरोपियों के साथ जमीन संबंधी विवाद चल रहा है। आरोप हैं कि आरोपियों ने इस महिला के परिवार की जमीन पर कब्जा कर रखा था, जिसे तहसीलदार बमोरी ने मई में ही मुक्त कराकर इस महिला के परिवार के सुपुर्द कर दिया था। श्रीवास्तव ने बताया कि यह महिला इसी खेत में गई हुई थी, तभी आरोपी पक्ष के ये लोग आये और उन्होंने उसको खेत पर जला दिया। उन्होंने कहा कि महिला की हालत गंभीर होने के कारण उसे भोपाल के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password