GST Council Meeting: दही, पनीर, का स्वाद लेना हुआ महंगा, होटल में रूकने के लिए चुकाने होगें दुगने पैसे

GST Council Meeting: दही, पनीर, का स्वाद लेना हुआ महंगा, होटल में रूकने के लिए चुकाने होगें दुगने पैसे

GST On Food Product: देश में जहां पर महंगाई आसमान छूं रही है वहीं पर एक बार फिर आम आदमी की जेब पर मंहगाई का तगड़ा झटका लगा है जिसके साथ ही दही, पनीर, शहद, मांस और मछली जैसे डिब्बा बंद और लेबल-युक्त या ब्रांडेड चीजों पर जीएसटी लग जाएगा जिससे इनकी कीमते बढ़ जाएगी।

जानें क्या-क्या होगा महंगा

आपको बताते चलें कि,

डेयरी प्रॉडक्ट होगे महंगे

आपको बताते चलें कि, जीएसटी काउंसिल (GST Council) की चंडीगढ़ में चल रही बैठक में कई महत्वपूर्ण फैसले लिये जा रहे हैं। जिसमें बीते दिन मंगलवार को फैसला लेते हुए बताया कि, दही, पनीर, शहद और मांस-मछली जैसे उत्पाद अगर ब्रैंडेड या डिब्बा बंद हैं, तो उन पर अब जीएसटी लगेगा। इन पर 5 फीसदी जीएसटी लगने वाला है।

होटल पर रूकना होगा महंगा

आपको बताते चलें कि, डेयरी प्रॉडक्ट के अलावा होटल (Hotel) में रुकना भी महंगा हो जाएगा। यहां पर अब एक हजार रुपये रोजाना से कम किराए वाले होटल रूम पर 12 फीसद की दर से जीएसटी लगेगा। अभी तक इस पर कोई जीएसटी नहीं लगता था। इस तरह अब आपका होटल में रुकना महंगा होने वाला है।अस्पताल में भर्ती मरीजों के लिए 5,000 रुपये से अधिक किराये वाले कमरों (आईसीयू को छोड़कर) पर पांच फीसद जीएसटी लगाया जाएगा।

बैंकिग के काम भी आसान नहीं

आपको बताते चलें कि, अब बैकिंग के काम भी आसान नहीं होगे जहां पर बैंकों द्वारा लिये जाने वाला शुल्क भी जीएसटी के दायरे में आएगा। जीएसटी काउंसिल ने मंगलवार को यह फैसला लिया है। चेक जारी करने पर बैंकों द्वारा लिये जाने वाले शुल्क पर 18 फीसद जीएसटी लगेगा। इसके अलावा जीएसटी काउंसिल ने चार्ट पेपर और एटलस नक्शे पर 12 फीसद जीएसटी लगाने का फैसला किया है। हालांकि, ये गैर ब्रैंडेड हैं और खुले में बिक रहे हैं, तो जीएसटी छूट जारी रहेगी।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password