Grain ATM: भारत का पहला ग्रेन एटीएम गुरुग्राम में स्थापित, जानिए क्या है और कैसे काम करता है?

Grain ATM

नई दिल्ली। आपने अबतक पैसे निकालने के लिए ATM का इस्तेमाल किया होगा। लेकिन क्या कभी आपने अनाज के लिए ATM का इस्तेमाल किया है। चौंकिए नहीं ये हकीकत है। अब आप अनाज के लिए भी ATM का इस्तेमाल कर सकते हैं। हालांकि, अभी इस ATM को हरियाणा सरकार ने अपने राज्य में राशन की धांधली को रोकने के लिए पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर गुरूग्राम के फर्रूखनगर में शुरू किया है। इस ATM को कहते हैं ‘ग्रेन एटीएम’।

मशीन का नाम अन्नपूर्ति रखा गया है

इस ग्रेन एटीएम का नाम ‘अन्नपूर्ति’ रखा गया है। इस ATM को संयुक्त राष्ट्र के वर्ल्ड फूड प्रोग्राम के तहत स्थापित किया गया है। मशीन पूरी तरह से स्वचालित है और बैंक के एटीएम की तरह ही काम करती है। बतादें कि स्वचालित मशीन टच स्क्रीन के साथ बायोमेट्रिक सिस्टमन से लैस है। इसमें लाभार्थी को अनाज प्राप्त करने के लिए अपना आधार या राशन कार्ड का यूनिक नंबर दर्ज करना होगा और मशीन लाभार्थी को उसके हिस्से के अनुसार अनाज दे देगा।

सरकार का यह है उद्देश्य

इस ग्रेन एटीएम को शुरू करने के पीछे सरकार का उद्देश्य राशन देते समय होने वाली धांधली को रोकना है। अगर यह मशीन अपने पायलट प्रोजेक्ट में सफल रहती है तो आने वाले दिनों में पहले हरियाणा और फिर पूरे देश में स्थापित की जा सकती है। बतादें कि इस ग्रेन एटीएम मशीन से एक मिनट में 10 किलों तक अनाज निकाला जा सकता है। लाभार्थी को बस अपना बायोमेट्रिक प्रमाणीकरण करना होगा और फिर मशीन के नीचे लगे थैलों में स्वत: अनाज भर जाएगा।

मशीन से तीन प्रकार के अनाज का वितरण किया जा सकता है

गौरतलब है कि इस मशीन से तीन प्रकार के अनाज- गेहूं, चावल और बाजरा। वितरित किए जा सकते हैं। फिलहाल फर्रूखनगर में लगे इस ग्रेन एटीएम से गेंहू का ही वितरण किया जा रहा है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password