Demonetization: सरकार बेचेगी MTNL और BSNL की संपत्तियां, 970 करोड़ कमाई की उम्मीद

नई दिल्ली- करोड़ों रुपए के घाटे में चल रही बीएसएनएल और एमटीएनएल की 970 करोड़ की संपत्ति सरकार नीलाम करने जा रही है. निवेश और सार्वजनिक संपत्ति प्रबंधन विभाग जिसे संक्षेप में ‘दीपम’ भी कहा जाता है. उसकी वेबसाइट पर इससे जुड़ा विज्ञापन जारी किया गया है. सरकार ने दोनों कंपनियों की अचल संपत्तियों को लगभग 970 करोड़ रुपये की आरक्षित कीमत पर बेचने के लिए सूचीबद्ध किया है.

कई शहरों में हैं संपत्तियां- बीएसएनएल की ये संपत्तियां हैदराबाद, चंडीगढ़, भावनगर और कोलकाता में हैं और बिक्री के लिए इनका आरक्षित मूल्य 660 करोड़ रुपये रखा गया है. दीपम की वेबसाइट पर मुंबई के गोरेगांव के वसारी हिल की एमटीएनएल की संपत्ति भी शामिल है. जिसका आरक्षित मूल्य 310 करोड़ रुपये रखा गया है. इसी तरह ओशिवारा में एमटीएनएल के 20 फ्लैटों को भी कंपनी की परिसंपत्ति मौद्रिकरण योजना के हिस्से के रूप में बिक्री के लिए रखा गया है। इनका आरक्षित मूल्य 52.26 लाख रुपये से लेकर 1.59 करोड़ रुपये तक है।

‘एमटीएनएल और बीएसएनएल में परिसंपत्ति मौद्रिकरण का पहला चरण’
बीएसएनएल अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक पी के पुरवार ने बताया कि ‘‘यह एमटीएनएल और बीएसएनएल में परिसंपत्ति मौद्रिकरण का पहला चरण है। बीएसएनएल की 660 करोड़ रुपये की संपत्तियों और एमटीएनएल की 310 करोड़ रुपये की संपत्तियों के लिए बोलियां आमंत्रित की गई हैं। हम पूरी प्रक्रिया को डेढ़ महीने के भीतर पूरा करने की योजना बना रहे हैं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘हम परिसंपत्ति मौद्रिकरण के लिए बाजार की मांग के अनुसार आगे बढ़ेंगे।’’ एमटीएनएल की संपत्तियों की ई-नीलामी 14 दिसंबर को होगी।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password