Telegram पर लड़कियों की फोटो के साथ छेड़छाड़, इस टूल के जरिए न्यूड की जा रही फोटोज

नई दिल्ली: पिछले दिनों काफी लोकप्रियता पाने वाले टेलीग्राम (Telegram) को लेकर बहुत ही परेशानी में डालने वाली खबर सामने आई है। यह ऐप फिलहाल बहुत ज्यादा कान्ट्रोवर्सी में फंस चुकी है। अब तक की रिपोर्ट्स के मुताबिक टेलीग्राम पर मैसेज और अन्य मीडिया की न सिर्फ प्राइवेसी (privacy) का पक्का इंतजाम होता है, बल्कि इस पर बड़ी फाइलें भी आसानी से शेयर (share) की जा सकती हैं।

लेकिन अब इस ऐप को लेकर काफी सवाल खड़े किए जा रहे हैं। क्योंकि डीपफेक टूल (deepfake tool) के जरिए इस पर कपड़े पहने फोटो के भी कपड़े उतारे जा सकते हैं। इसके जरिए इस ऐप पर नाबालिग लड़कियों को निशाना बनाया जा रहा है और उन्हें परेशान किया जा रहा है।

अब तक करीब एक लाख न्युड फोटो हुई शेयर

इस ऐप के जरिए अब तक 10 हजार महिलाओं और लड़कियों की बिना अनुमति के एक लाख न्यूड फोटो ऑनलाइन शेयर की जा चुकी है। ये फोटोज जुलाई 2019 और 2020 के बीच एआई-बॉट का उपयोग करके बनाई गई थीं।

सोशल मीडिया से ली गई थी फोटोज

जिन लड़कियों की तस्वीरें वायरल हुई उनमें से अधिकांश लड़कियों की पर्सनल फोटो थी। जिन्हें सोशल मीडिया से लिया गया था। सभी महिलाएं थीं और कुछ फोटोज देखने में नाबालिग लग रही थी। यह बिना नाम का ‘बॉट’ कृत्रिम बुद्धिमत्ता और मशीन लर्निंग का उपयोग करता है। जो टेलीग्राम मैसेजिंग ऐप पर शेयर की कई फोटोज पर काम करता है।

सामान्य लोगों की निजी तस्वीरों को बॉट ने बनाया न्यूड

इसके बारे में रिपोर्ट करने वालों का कहना है कि किसी की भी तस्वीर लेकर इस पर उसे नग्न किये जाने का खतरा बना रहता है। उन्होंने बताया है कि इस बॉट द्वारा जिन महिलाओं और लड़कियों के ‘फेक’ न्यूड बनाये गये, वे सामान्य लोगों की निजी तस्वीरें थीं।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password