Ghulam Nabi Azad resign : इस पार्टी में शामिल हो सकते है गुलाम अली आजाद!, कही ये बड़ी बात

Ghulam Nabi Azad resign : इस पार्टी में शामिल हो सकते है गुलाम अली आजाद!, कही ये बड़ी बात

Ghulam Nabi Azad resign : कांग्रेस के वरिष्ठ और गांधी परिवार के करीबी गुलाम नबी आजाद ने शुक्रवार को पार्टी के सभी पदों से इस्तीफा दे दिया है। गुलाम बनी का कांग्रेस से जाना पार्टी के लिए अबतक का सबसे बड़ा झटका है। क्योंकि गुलाम नबी आजाद गांधी परिवार के करीबी होने के साथ साथ वह पार्टी के शीर्ष नेताओं में से एक थे। गुलाम नबी आजाद ने डूबी पार्टी को फिर से खड़ा करने और पार्टी नेतृत्व को बदलने के लिए कई बार अपनी आवाज बुलंद की लेकिन पार्टी नेताओं पर उनकी बात का कुछ असर नहीं हुआ, इसी के चलते उन्होंने पार्टी से नाता तोड़ दिया।

कौन है गांधी परिवार का वफादार गुलाम नबी आजाद, जिन्होंने तोड़ा कांग्रेस से नाता

सोनिया को लिखा खत

गुलाम नबी आजाद ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को लिखे पांच पन्नों के खत में कहा है कि वह भारी मन से यह कदम उठा रहे हैं। आगे आजाद ने कहा कि अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी को चला रहे कुछ लोगों द्वारा नियंत्रित कांग्रेस ने देश हितकारी मुद्दों की खातिर लड़ने की इच्छाशक्ति और क्षमता खो दी है। पार्टी नेतृत्व को भारत जोड़ो यात्रा से पहले कांग्रेस जोड़ो यात्रा निकालनी चाहिए थी। पार्टी की कमजोरियों पर ध्यान दिलाने के लिए खत लिखने वाले 23 नेताओं को अपशब्द कहे गए, उन्हें अपमानित किया गया और नीचा दिखाया गया। पार्टी में किसी भी स्तर पर चुनाव नहीं कराए गए। इतना ही नहीं आजाद ने यह तक कहा कि कांग्रेस में हालात अब ऐसी स्थिति पर पहुंच गए हैं, जहां से वापस नहीं आया जा सकता।

कौन है गांधी परिवार का वफादार गुलाम नबी आजाद, जिन्होंने तोड़ा कांग्रेस से नाता

बीजेपी में शामिल होंगे आजाद?

गुलाम नबी आजाद के इस्तीफे के बाद से राजनैतिक गलियारों में सुगबुगाहट तेज हो गई है। अब आजाद किस पार्टी का दामन थाम सकते है यह देखना दिलचस्प होगा। आपको बता दें कि राजनैतिक दालों से ताल्लुक रखने वाले नेताओं का कहना है कि गुलाम नबी आजाद ही कांग्रेस के एक ऐसे नेता है, जिन्हें प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी काफी पसंद करते है। इतना ही नहीं पीएम मोदी के कार्यकाल में पहली बार किसी कांग्रेसी नेता ओ पद्म भूषण पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। इसके अलावा आजाद की जब राज्यसभा से विदाई हो रही थी तब पीएम मोदी के आंसू छलक आए थें। पीएम मोदी ने आजाद को अपना भाई भी बताया था। हालांकि आपको बता दें कि गुलाम नबी आजाद किस पार्टी में  शामिल होंगे या नहीं यह अभी पूण रूप से स्पष्ट नहीं है।

कौन है गांधी परिवार का वफादार गुलाम नबी आजाद, जिन्होंने तोड़ा कांग्रेस से नाता

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password