गांगुली की हालत स्थिर, छह जनवरी को मिल सकती है अस्पताल से छुट्टी: अस्पताल

कोलकाता, चार जनवरी (भाषा) बीसीसीआई अध्यक्ष एवं भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली की हालत स्थिर है तथा उन्हें बुधवार को अस्पताल से छुट्टी मिल सकती है। अस्पताल के अधिकारियों ने यह जानकारी दी।

वुडलेंड्स अस्पताल की एमडी एवं सीईओ रूपाली बसु ने बताया कि वरिष्ठ चिकित्सकों के नौ सदस्यीय बोर्ड ने सोमवार को गांगुली की सेहत के बारे में चर्चा की और इस पर सहमति बनी कि चूंकि उनकी हालत स्थिर है इसलिए उनकी जो एंजियोप्लास्टी होनी है उसे कुछ दिन के लिए टाला जा सकता है।

गौरतलब है कि शनिवार को ‘हल्का’ दिल का दौरा पड़ने के बाद 48 वर्षीय गांगुली को कोलकाता के एक निजी अस्पताल में भर्ती करवाया गया था जहां उनकी एंजियोप्लास्टी की गई। ह्रदय तक जाने वाली उनकी तीन प्रमुख धमनियों में अवरोध पाया गया था जिसे ‘ट्रिपल वेसल डिसीज’ भी कहते हैं।

बसु ने बताया कि जाने माने ह्रदयरोग विशेषज्ञ डॉ. देवी शेट्टी और डॉ. आर. के. पांडा भी ऑनलाइन तरीके से बैठक में शामिल हुए तथा अमेरिका के एक अन्य विशेषज्ञ से भी फोन पर इस विषय के बारे में चर्चा हुई।

बोर्ड की सदस्य बसु ने बताया, ‘‘मेडिकल बोर्ड में यह आम सहमति बनी कि चूंकि गांगुली की सेहत स्थिर है, सीने में दर्द नहीं है, ऐसे में एंजियोप्लास्टी को फिलहाल के लिए टालना सुरक्षित विकल्प होगा।’’

बैठक में गांगुली के परिजन भी मौजूद थे जिन्हें रोग संबंधी प्रक्रिया और आगे के इलाज की योजना के बारे में बताया गया।

बसु ने बताया, ‘‘एंजियोप्लास्टी तो आने वाले कुछ दिन या हफ्तों में करनी ही होगी। उन्हें संभवत: परसों तक अस्पताल से छुट्टी दी जाएगी।’’

उन्होंने बताया कि गांगुली का उपचार कर रहे चिकित्सक उनकी सेहत पर लगातार नजर रखेंगे । मंगलवार को डॉ. देवी शेट्टी गांगुली से मुलाकात करने आ सकते हैं तथा आगे के उपचार के लिए एक और बैठक भी करेंगे।

दिल का दौरा पड़ने के बाद गांगुली के ह्रदय की एक प्रमुख धमनी में स्टेंट डाला गया था।

इस बीच केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री अनुराग ठाकुर गांगुली से मुलाकात करने पहुंचे। उन्होंने उम्मीद जताई कि बीसीसीआई अध्यक्ष जल्द ही सामान्य जीवन में लौटेंगे।

उन्होंने कहा, ‘‘दादा तो देश के नायक हैं। उन्होंने क्रिकेट में कई उतार-चढ़ाव देखे हैं और अपने विरोधियों को अनेक बार परास्त किया है। इस बार भी वह ऐसा करेंगे।

ठाकुर ने कहा, ‘‘आज जब मैं सौरव से मिला तो वह मुस्कुरा रहे थे। वह ठीक लग रहे थे। मैं जानता हूं कि वह जल्द ही सामान्य जीवन में लौटेंगे और भारतीय क्रिकेट को नए स्तर पर पहुंचाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे। उन्हें बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभानी है, पहले तो बीसीसीआई में और फिर देश के कई अन्य क्षेत्रों में भी।’’

भाषा मानसी नरेश

नरेश

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password