Lulu Mall Violence Case: फिर नमाज पढ़ते पाए 4 आरोपी गिरफ्तार, जानें क्या है पूरा मामला

Lulu Mall Violence Case: फिर नमाज पढ़ते पाए गए 4 आरोपी गिरफ्तार, जानें क्या है पूरा मामला

लखनऊ। Lulu Mall Violence Case उत्तर प्रदेश पुलिस ने यहां लुलु मॉल में अनधिकृत तौर पर नमाज पढ़ने के चार आरोपियों को मंगलवार सुबह गिरफ्तार किया, जबकि चार अन्य की तलाश की जा रही है। अधिकारियों ने यह जानकारी दी।पुलिस ने कहा कि आरोपियों में से कोई भी लुलु मॉल का कर्मचारी नहीं है।

पुलिस आयुक्त डी के ठाकुर ने मंगलवार को ‘भाषा’ से कहा, ”मॉल में अनधिकृत रूप से नमाज पढ़ने को लेकर चार लोगों को मंगलवार को गिरफ्तार किया गया। उनकी पहचान मो रेहान और आतिफ खान, मो लोकमान और मो नोमान के रूप में की गयी है। वे सभी लखनऊ के रहने वाले हैं।’’उन्होंने बताया कि चार अन्य आरोपियों की तलाश की जा रही है । इस बीच, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार रात कहा,”लखनऊ प्रशासन को बहुत गंभीरता से इसे लेना चाहिए और इस प्रकार की किसी भी शरारत को स्वीकार नहीं करना चाहिए । उसे ऐसे तत्वों से सख्ती से निपटना चाहिए जो अनावश्यक मामलों को बढ़ावा देकर माहौल खराब करने का प्रयास करते हैं । ”

गौरतलब है कि बुधवार यानी 13 जुलाई को लुलु मॉल में नमाज पढ़ने का वीडियो वायरल हुआ था । पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज के आधार पर इन चारों की गिरफ्तारी की है। इसी मामले पर दक्षिणपंथी संगठन अखिल भारतीय हिंदू महासभा के कुछ सदस्यों ने बृहस्पतिवार 14 जुलाई को लुलु मॉल के गेट पर धरना-प्रदर्शन किया था। खुद को महासभा का राष्ट्रीय प्रवक्ता बताने वाले शिशिर चतुर्वेदी ने आरोप लगाया था कि एक समुदाय विशेष के लोगों को मॉल के अंदर नमाज पढ़ने की अनुमति दी जा रही है। उन्होंने कहा था कि तब तो मॉल के अधिकारियों को हिंदुओं तथा अन्य धर्मावलंबियों को भी मॉल के अंदर प्रार्थना करने की इजाजत देनी चाहिए।

इस बीच, लुलु मॉल के महाप्रबंधक समीर वर्मा ने एक वीडियो जारी कर कहा था, ‘‘लुलु मॉल सभी धर्मों का आदर करता है। मॉल के अंदर किसी भी तरह का धार्मिक कार्य या इबादत की इजाजत नहीं है। हम अपने स्टाफ तथा सुरक्षा कर्मियों को ऐसी गतिविधियों पर नजर रखने का प्रशिक्षण देते हैं।’’ गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश के सबसे बड़े मॉल कहे जा रहे लुलु मॉल का मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 10 जुलाई को उद्घाटन किया था। इस दौरान राज्य सरकार के कई मंत्री तथा लुलु समूह के अध्यक्ष युसूफ अली भी मौजूद थे।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password