Corona In MP: प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री की बहू का कोरोना से निधन, 15 दिन इलाज के बाद तोड़ा दम…

भोपाल। प्रदेश सहित पूरे देश में कोरोना की दूसरी लहर अपने प्रचंड दौर में हैं। आम से लेकर खास तक सभी लोग इसकी चपेट में हैं। प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कैलाश जोशी की बहू विजया जोशी का कोरोना से निधन हो गया है। विजया पिछले दिनों कोरोना से संक्रमित हो गईं थीं। इसके बाद उन्हें इंदौर के अरविंदो अस्पातल में इलाज के लिए भर्ती किया गया था। करीब 15 दिनों तक इलाज के बाद उन्होंने दम तोड़ दिया। विजया जोशी के पति और पूर्व सीएम कैलाश जोशी के बेटे दीपक जोशी भी कोरोना संक्रमित हो गए थे।

हालांकि दीपक जोशी और उनका पुत्र जयवर्धन कोरोना से स्वस्थ्य हो चुके हैं। दीपक जोशी देवास के हाटपिपल्या विधानसभा क्षेत्र से विधायक रह चुके हैं। जोशी शिवराज सरकार में मंत्री भी रह चुके हैं। बता दें कि दीपक जोशी पिछले 10 अप्रैल को कोरोना संक्रमित हुए थे। इसकी जानकारी उन्होंने सोशल मीडिया के जरिए दी थी। इलाज के बाद दीपक जोशी स्वस्थ हो चुके हैं। वहीं उनके बेटा भी कोरोना की चपेट में आ गया था और दोनों ही कोरोना को मात देकर स्वस्थ हो चुके हैं। वहीं दीपक की पत्नी विजया जोशी का कोरोना से निधन हो गया है। इससे पहले भी भाजपा के कई नेता कोरोना की चपेट में आ चुके हैं। मप्र के पूर्व मंत्री बृजेंद्र सिंह राठौर और मांडवी चौहान का कोरोना से निधन हो गया है।

प्रदेश में कोरोना का कहर जारी…
बता दें कि प्रदेश में कोरोना अपने प्रचंड दौर में है। सोमवार को स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार प्रदेश में एक्टिव मरीजों की संख्या घटकर 85 हजार 750 पहुंच गई है। अगर सोमवार की बात करें तो प्रदेशभर में कोरोना के 12072 नए मामले सामने आए हैं। वहीं 13408 कोरोना संक्रमित मरीजों ने कोरोना को मात देकर जिंदगी की जंग जीत ली है। प्रदेश में कोरोना से संक्रमित मरीजों का रिकवरी रेट 84.7% हो गया है। वहीं मृत्यु दर 1% बची है।

अगर प्रदेश के जिलों की बात करें तो सबसे ज्यादा पॉजिटिविटी रेट टीकमगढ़ और शिवपुरी में है। टीकमगढ़ में 45% जबकि शिवपुरी जिले में 39% पॉजिटिविटी रेट है। वहीं प्रदेश के बुरहानपुर और छिंदवाड़ा में यह पॉजिटिविटी रेट सबसे कम दर्ज किया गया है। बुरहानपुर में 3% और छिंदवाड़ा जिले में 5%पॉजिटिविटी रेट बना हुआ है। वहीं साप्ताहिक पॉजिटिविटी रेट की बात करें तो तो यह 21.3% हो गया है। यह रेट राष्ट्रीय औसत के बराबर ही है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password