जमीन विवाद में पूर्व बैडमिंटन खिलाडी और उनके दो भाइयों के अपहरण में पूर्व मंत्री गिरफ्तार

हैदराबाद, छह जनवरी (भाषा) भूमि विवाद में पूर्व बैडमिंटन खिलाड़ी और उनके दो भाइयों का अपहरण करने के आरोप में आंध्र प्रदेश की पूर्व मंत्री भुमा अखिला प्रिया को बुधवार को गिरफ्तार किया गया।

सूत्रों ने बताया कि 15 लोग खुद को आयकर विभाग का कर्मचारी बता मंगलवार रात को राष्ट्रीय स्तर के पूर्व बैडमिंटन खिलाड़ी प्रवीण राव के बोवेनपल्ली स्थित घर पर छापेमारी करने के बहाने आए और उन्हें एवं उनके दो भाइयों का अपहरण करके ले गए।

उन्होंने बताया कि अपहरणकर्ता तीनों भाइयों को पहले फार्महाउस लेकर गए लेकिन पुलिस द्वारा बड़े पैमाने पर तलाशी शुरू किए जाने पर नरसिंही के पास छोड़ दिया।

हैदराबाद के पुलिस आयुक्त अंजनी कुमार ने संवाददाताओं को बताया कि अपहरणकर्ताओं में एक पुलिस की वर्दी पहने हुए था और वे फर्जी तलाशी वारंट एवं पहचान पत्र के साथ आए थे।

उन्होंने बताया कि पहले तीनों को ले जाने से पहले मकान के हॉल में पूछताछ की गई जबकि परिवार के अन्य सदस्यों को कमरे में बंद कर दिया गया।

पुलिस ने बताया कि जब पड़ोस में रहने वाले रिश्तेदार आए और दरवाजा खोला तब परिवार के अन्य सदस्यों ने घर में लगे सीसीटीवी में देखा कि छापेमारी के बहाने से घर आए लोग उनके परिजनों को अलग-अलग वाहनों में ले गए हैं।

पुलिस आयुक्त ने बताया कि परिवार को तब अहसास हुआ कि घर आए लोग सरकारी कर्मचारी नहीं थे और तीनों भाइयों का अपहरण हुआ है।

उन्होंने बताया कि परिवार ने इसके बाद मामले की जानकारी पुलिस को दी और घटना में जमीन विवाद की वजह से रिश्तेदार एवी सुब्बा रेड्डी एवं भुमा अखिला प्रिया, उनके पति भार्गव राम एवं अन्य के शामिल होने की आशंका जताई।

कुमार ने बताया कि पुलिस की 15 टीमों ने विभिन्न दिशाओं में तलाशी अभियान शुरू किया और आंध्र प्रदेश की पुलिस से भी संपर्क किया।

उन्होंने बताया कि सीसीटीवी फुटेज के आधार पर उन वाहनों की पहचान की गई जिनसे तीनों भाइयों को ले जाया गया था।

पुलिस ने बताया कि पुलिस की उपस्थिति और अंतर राज्यीय सीमा पर जाने वाली सभी सड़कों पर जांच की वजह से अपहरणकर्ताओं को लगा की बचना मुश्किल है और उन्होंने मंगलवार-बुधवार की दरमियानी रात करीब तीन बजकर 30 मिनट पर नरसिंही के पास भागने से पहले तीनों भाइयों को छोड़ दिया।

पुलिस ने बताया कि अपहरणकर्ताओं की चंगुल से छूटने के बाद भाइयों ने अपना फोन ऑन किया और पुलिस ने फोन टॉवर लोकेशन की मदद से उनका पता लगाया और उन्हें घर पहुंचाया।

पुलिस आयुक्त ने बताया कि इस बीच भुमा अखिला प्रिया को यहां कुकटपल्ली स्थित उनके आवास से गिरफ्तार किया गया है और वह पुलिस हिरासत में हैं।

उन्होंने बताया कि घटना में शामिल और फरार चल रहे अन्य लोगों को भी पकड़ने की कोशिश की जा रही है।

पुलिस ने बताया कि प्राथमिक जांच से पता चला है कि हफीजपेट स्थित जमीन विवाद की वजह से भुमा अखिला प्रिया, उनके पति एवं अन्य ने अपहरण की कथित साजिश रची और इसे अंजाम दिया।

उल्लेखनीय है कि अखिला प्रिया आंध्र प्रदेश की तेलुगु देशम पार्टी सरकार में पर्यटन मंत्री थीं।

भाषा धीरज पवनेश

पवनेश

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password