Kamal Nath News :चुनावी सभा में बोले पूर्व सीएम – मैं कोई महाराजा नहीं ,मेरा कोई गुलाम नहीं ,मैं मामा भी नहीं, मैं तो सिर्फ कमलनाथ हूं

kamal nath news

भोपाल। पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ आज अशोकनगर में चुनावी रैली को संबोधित किया। अशोक नगर विधानसभा के राजपुर में पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ Kamal Nath News ने कहा कि यह साधारण उपचुनाव नहीं है। जनता को सोचना होगा कि आज उपचुनावों की आवश्यकता क्यों पड़ी ? भाजपा ने किस प्रकार से हमारे प्रजातंत्र और संविधान के साथ खिलवाड़ किया। किस प्रकार से एक सौदेबाजी और बोली की सरकार बनाई , भाजपा ने इस प्रजातंत्र को धन तंत्र बना दिया। भाजपा का बस चलेगा तो सरपंच का चुनाव भी नहीं होगा ,बोली लगाओ और सरपंच बनाओ ,आज यह तस्वीर हमारे सामने हैं।

हम आजाद हो गए
पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि मैं आज अशोकनगर की धरती पर यहां की जनता को बधाई देता हूं कि आपने लोकसभा चुनाव में ही सही पहचान कर ली थी और पूरे मध्यप्रदेश को संदेश दे दिया था। आपने बता दिया था अब हम आजाद हो गए हैं। आपने यह संदेश भी दे दिया था कि कांग्रेस महल में नहीं जाती है , महल कांग्रेस में आते हैं।

छिंदवाड़ा में विशाल हनुमान मंदिर बनवाया
पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ कि मैं कोई महाराजा नहीं ,मेरा कोई गुलाम नहीं ,मैं मामा भी नहीं ,मैं अपनी जेब में नारियल लेकर भी नहीं चलता ,मैं घोषणा भी नहीं करता ,मैं झूठ भी नहीं बोलता ,मैंने कभी चाय भी नहीं बेची ,मैं तो सिर्फ कमलनाथ हूं। मैंने कुत्ते की समाधि भी नहीं बनाई , मैंने तो मध्यप्रदेश की धर्म प्रेमी जनता के लिए छिंदवाड़ा में विशाल हनुमान मंदिर बनवाया है।

नोटों से अपनी सरकार बना ली
पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ कि प्रदेश की जनता ने तय किया था कि 15 वर्ष शिवराज जी आपकी सरकार देख ली ,बहुत हो गया ,अब हम कांग्रेस की सरकार चाहते हैं। उन्होंने वोटों से प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनाई थी लेकिन इन्होंने बीच में ही नोटों से अपनी सरकार बना ली। कैसा प्रदेश इन्होंने हमें सौंपा था ,किसानों की आत्महत्या ,महिलाओं पर अत्याचार ,भ्रष्टाचार ,बेरोजगारी में नंबर वन। कितनी चुनौती थी हमारे सामने। आज जब मैं प्रदेश भर में किसानों से मिल रहा हूं तो ना किसानों को बीमा की राशि मिली ,ना किसानों को मुआवजा मिला और यह खुद को किसान का बेटा कहलाते हैं , मैं उनसे पूछना चाहता हूं आप कैसे किसान पुत्र हो ?

नीति व नीयत का परिचय दिया
पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ कि हमने 27 लाख किसानों की कर्ज माफी की , हम बाकी किसानों की कर्ज माफी की शुरुआत 1 जून से करने जा रहे थे।देश के इतिहास में पहली बार हमने चालू खाते का भी कर्ज माफ किया ,हमने अपना वचन पूरा कर एक उदाहरण देकर अपनी नीति व नीयत का परिचय दिया।

प्रदेश में निवेश नहीं आता था
पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ कि हमने देखा मध्य प्रदेश में निवेश नहीं आता था ,जिसने उद्योग लगते नहीं थे , उतने बंद हो जाते थे क्योंकि किसी को मध्य प्रदेश पर विश्वास नहीं था। हमने विश्वास के माहौल को बनाने की शुरुआत की, प्रदेश की जो पहचान माफिया और मिलावटखोरों से थी ,उस पहचान को हमने बदलने का काम किया।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password