मोबाइल फोन के लिए चलती ट्रेन से कूंदा युवक, मौके पर ही मौत,बेटे की आंखें पिता ने दीं दान

यह दुखद घटना अलवर की है जहां एक युवक ने स्मार्टफोन के मोंह में अपनी जान गवां दी।  दरअसल जयपुर हिसार-पैंसेजर से अपने गांव लौटते वक्त एक युवक के हाथ से फोन छिटक कर ट्रैक पर गिर गया। युवक ने पहले तो चेन पुलिंग की कोशिश की। लेकिन जब ट्रेन नहीं रुकी तो मोबाइल के लिए वह चलती ट्रेन से कूद गया और गिरने से उसकी मौके पर ही मौत हो गई।

14 हजार की नौकरी वाले पिता ने दान की आंखें

14 हजार की नौकरी करने वाले रघुराम के पिता मिट्‌टी के बर्तन बनाते हैं और वह परिवार का सहारा था। परिवार ने उसकी आंखें दान कर दी हैं। उनका कहना है बैटा तो रहा नहीं, लेकिन उसकी आंखो से किसी की जिंदगी में शायद रोशनीं आ जाये। यह मेंरे लिए कुछ चैन देने वाला रहेगा।

चेन खींची लेकिन ट्रेन नहीं रुकी, तो कूदा
अलवर जीआरपी के एसएचओ लक्ष्मण सिंह ने बताया कि शुक्रवार शाम करीब 8 बजे सूचना मिली कि हिसार-जयपुर ट्रेन से बसवा निवासी 24 साल का युवक रघुराम अपने गांव जा रहा था। अलवर रेलवे जंक्शन से ट्रेन आगे बढ़ी तो वह गेट के पास खड़ा होकर मोबाइल पर बात करने लगा। ईटाराणा पुलिया के करीब रघुराम का मोबाइल हाथ से छूटकर ट्रैक पर जा गिरा। स्मार्टफोन गिरा तो रघुराम बेचैन हो गया। उसने भागकर चेन खींची लेकिन ट्रेन नहीं रुकी। उसकी बेचैनी बढ़ती गई। वह मोबाइल के लिए चलती ट्रेन से कूद पड़ा। ट्रैक पर गिरने से उसकी मौत हो गई। जीआरपी पुलिस ने आज सुबह शव का पोस्टमार्टम करा परिजनों को सुपुर्द किया।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password