Breaking News: कोरोना से जिंदगी की जंग हारे फ्लाइंग सिख मिल्खा सिंह, पीएम मोदी ने जताया शोक



Breaking News: कोरोना से जिंदगी की जंग हारे फ्लाइंग सिख मिल्खा सिंह, पीएम मोदी ने जताया शोक

चंडीगढ़। देश के नायाब एथलीट मिल्खा सिंह का निधन हो गया। बीते दिनों वह कोरोना संक्रमित हो गए थे। करीब दो हफ्ते से उन्हें इलाज के चंडीगढ़ के अस्पताल में भर्ती किया गया था। भारत के महान फर्राटा धावक मिल्खा सिंह का एक महीने तक कोरोना संक्रमण से जूझने के बाद शुक्रवार को निधन हो गया। इससे पहले उनकी पत्नी और भारतीय वॉलीबॉल टीम की पूर्व कप्तान निर्मल कौर ने भी कोरोना संक्रमण के कारण दम तोड़ दिया था। पद्मश्री मिल्खा सिंह 91 वर्ष के थे। उनके परिवार में उनके बेटे गोल्फर जीव मिल्खा सिंह और तीन बेटियां हैं। उनके परिवार के एक प्रवक्ता ने बताया कि उन्होंने रात 11.30 पर आखिरी सांस ली। उनकी हालत शाम से ही खराब थी और बुखार के साथ आक्सीजन भी कम हो गई थी। वह यहां पीजीआईएमईआर के आईसीयू में भर्ती थे।

पिछले महीने हुआ था कोरोना

उन्हें पिछले महीने कोरोना हुआ था और बुधवार को उनकी रिपोर्ट नेगेटिव आई थी। उन्हें जनरल आईसीयू में शिफ्ट कर दिया गया था। गुरूवार की शाम से पहले उनकी हालत स्थिर हो गई थी। उनकी पत्नी 85 वर्षीय निर्मल का रविवार को एक निजी अस्पताल में निधन हुआ था। चार बार के एशियाई खेलों के स्वर्ण पदक विजेता मिल्खा ने 1958 राष्ट्रमंडल खेलों में भी पीला तमगा हासिल किया था। उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन हालांकि 1960 के रोम ओलंपिक में था जिसमें वह 400 मीटर फाइनल में चौथे स्थान पर रहे थे। उन्होंने 1956 और 1964 ओलंपिक में भी भारत का प्रतिनिधित्व किया। उन्हें 1959 में पद्मश्री से नवाजा गया था।

Share This

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password