Fertilizer Shortage MP: प्रदेश में खाद को लेकर हाहाकार, लंबी-लंबी लाइनों में लगने के बाद भी होना पड़ रहा निराश



Fertilizer Shortage MP: प्रदेश में खाद को लेकर हाहाकार, लंबी-लंबी लाइनों में लगने के बाद भी होना पड़ रहा निराश

भोपाल। प्रदेश समेत पूरे देश में रबी की फसलों की बुवाई शुरू हो चुकी है। ऐसे में प्रदेश के कई जिलों में रासायनिक खाद की कमी के चलते किसान परेशान है। घंटों तक लंबी लाइनों में लगने के बाद भी किसानों को खाद नहीं मिल पा रहा है। प्रदेश के करीब 25 जिलों में किसान खाद के चलते काफी परेशान दिख रहे हैं। दतिया समेत कई जिलों में खाद की किल्लत को देखते हुए किसानों के बीच झड़प भी देखने को मिल रही है। हर साल की तरह इस साल भी किसानों को खाद के लिए मारा-मारी करनी पड़ रही है। खाद की किल्लत की जानकारी सीएम शिवराज को भी मिल चुकी है। सीएम शिवराज इसको लेकर कह चुके हैं कि चिंता करने की जरूरत नहीं है।

प्रदेश में खाद मंगाने के लिए अधिकारी दिन रात जुटे हैं। जल्द ही खाद की कमी को भी पूरा कर दिया जाएगा। वहीं किसान परेशान हैं। किसानों का कहना है कि प्रति किसान को केवल 10 ही बोरी दिया जा रहा है। वहीं हर एक बीघा को लिए एक बोरी की जरूरत होती है। ऐसे में सोसाइटी द्वारा उपलब्ध कराया जा रहा खाद अपर्याप्त है। किसान दिन-दिन भर लाइनों में खड़े होकर भी निराश लौट रहे हैं।

कांग्रेस लगातार बोल रही हमला…
वहीं प्रदेश में खाद की किल्लत को लेकर कांग्रेस लगातार सरकार पर हमलावर है। कांग्रेस प्रवक्ता आरपी सिंह ने भाजपा सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि प्रदेश सरकार इन दिनों चुनाव में व्यस्त है। उन्हें किसानों की परेशानी से कोई लेना-देना नहीं है। सिंह ने कहा कि सरकार को किसानों की कोई चिंता नहीं है। किसान लगातार परेशानियों से जूझते हुए आत्महत्या करने को मजबूर हैं। बीजेपी के पूर्व विधायक घनश्याम पिरौनिया ने कहा कि राज्य सरकार और केंद्र सरकार लगातार किसानों के लिए चिंतित है। साथ ही खाद की सम्स्या जल्द ही सुलझा दी जाएगी।

Share This

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password