पेलोसी के कार्यालय में घुसने वाले व्यक्ति को एफबीआई ने किया गिरफ्तार -



पेलोसी के कार्यालय में घुसने वाले व्यक्ति को एफबीआई ने किया गिरफ्तार

लिट्ल रॉक (अमेरिका), नौ जनवरी (एपी) एफबीआई ने अरकंसास के उस व्यक्ति को गिरफ्तार किया है, जो कैपिटल बिल्डिंग (अमेरिकी संसद) पर निवर्तमान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के समर्थकों के हमले के बाद आई तस्वीरों में प्रतिनिधि सभा की अध्यक्ष नैंसी पेलोसी के कार्यालय में कुर्सी पर बैठा हुआ दिखाई दिया था।

संघीय जांच ब्यूरो (एफबीआई) के शीर्ष उप संघीय अभियोजक केन कोल ने बताया कि रिचर्ड बारनेट को शुक्रवार को लिट्ल रॉक में गिरफ्तार कर लिया गया।

कोल ने बताया कि बारनेट पर पेलोसी के कार्यालय में घुसने के आरोप लगाए गए हैं, वहां उसने ‘कुछ लिख कर रखा और अध्यक्ष के कुछ संदेशों को हटा दिया था।’’

बारनेट पर जानबूझकर प्रतिबंधित क्षेत्र में प्रवेश करने और बिना अधिकार के वहां बने रहने, कैपिटल बिल्डिंग में हंगामा करते हुए प्रवेश करने तथा सार्वजनिक संपत्ति या रिकॉर्ड की चोरी करने जैसे तीन आरोप लगाए गए हैं। अगर वह दोषी पाया जाता है तो उसे एक साल तक कैद की सजा हो सकती है।

अभी फिलहाल उसे अरकंसास के वाशिंगटन काउंटी जेल में रखा गया है। जेल रिकॉर्ड में अभी उसके लिए कोई अटॉर्नी सूचीबद्ध नहीं किया गया है।

अधिकारियों ने बताया कि बारनेट ट्रंप के उन समर्थकों में शामिल है जो बुधवार को कैपिटल बिल्डिंग में घुस आए थे। इस हिंसक घटना में कैपिटल पुलिस के एक अधिकारी समेत पांच लोगों की मौत हो गई थी। अधिकारियों ने अदालत के दस्तावेजों में बताया है कि वे मीडिया में आई तस्वीरों के माध्यम से बारनेट को पहचानने में सफल रहे, तस्वीरें उस समय की है , जब वह इमारत के भीतर था।

अधिकारियों ने उसकी पहचान के लिए कैपिटल बिल्डिंग के भीतर लगे निगरानी कैमरों के वीडियो और न्यूयॉर्क टाइम्स के संवाददाता के साथ उसके साक्षात्कार के वीडियो का इस्तेमाल किया, जिसमें वह कह रहा है कि उसने कोई लिफाफा नहीं चुराया।

बारनेट उत्तर पश्चिमी अरकंसास के ग्रावेटे से है और उसने सोशल मीडिया पर अपनी पहचान ट्रंप समर्थक और बंदूक अधिकारों की वकालत करने वाले शख्स के तौर पर बताई है।

एपी स्नेहा शोभना

शोभना

Share This

पेलोसी के कार्यालय में घुसने वाले व्यक्ति को एफबीआई ने किया गिरफ्तार

लिट्ल रॉक (अमेरिका), नौ जनवरी (एपी) एफबीआई ने अरकंसास के उस व्यक्ति को गिरफ्तार किया है, जो कैपिटल बिल्डिंग (अमेरिकी संसद) पर निवर्तमान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के समर्थकों के हमले के बाद आई तस्वीरों में प्रतिनिधि सभा की अध्यक्ष नैंसी पेलोसी के कार्यालय में कुर्सी पर बैठा हुआ दिखाई दिया था।

संघीय जांच ब्यूरो (एफबीआई) के शीर्ष उप संघीय अभियोजक केन कोल ने बताया कि रिचर्ड बारनेट को शुक्रवार को लिट्ल रॉक में गिरफ्तार कर लिया गया।

कोल ने बताया कि बारनेट पर पेलोसी के कार्यालय में घुसने के आरोप लगाए गए हैं, वहां उसने ‘कुछ लिख कर रखा और अध्यक्ष के कुछ संदेशों को हटा दिया था।’’

बारनेट पर जानबूझकर प्रतिबंधित क्षेत्र में प्रवेश करने और बिना अधिकार के वहां बने रहने, कैपिटल बिल्डिंग में हंगामा करते हुए प्रवेश करने तथा सार्वजनिक संपत्ति या रिकॉर्ड की चोरी करने जैसे तीन आरोप लगाए गए हैं। अगर वह दोषी पाया जाता है तो उसे एक साल तक कैद की सजा हो सकती है।

अभी फिलहाल उसे अरकंसास के वाशिंगटन काउंटी जेल में रखा गया है। जेल रिकॉर्ड में अभी उसके लिए कोई अटॉर्नी सूचीबद्ध नहीं किया गया है।

अधिकारियों ने बताया कि बारनेट ट्रंप के उन समर्थकों में शामिल है जो बुधवार को कैपिटल बिल्डिंग में घुस आए थे। इस हिंसक घटना में कैपिटल पुलिस के एक अधिकारी समेत पांच लोगों की मौत हो गई थी। अधिकारियों ने अदालत के दस्तावेजों में बताया है कि वे मीडिया में आई तस्वीरों के माध्यम से बारनेट को पहचानने में सफल रहे, तस्वीरें उस समय की है , जब वह इमारत के भीतर था।

अधिकारियों ने उसकी पहचान के लिए कैपिटल बिल्डिंग के भीतर लगे निगरानी कैमरों के वीडियो और न्यूयॉर्क टाइम्स के संवाददाता के साथ उसके साक्षात्कार के वीडियो का इस्तेमाल किया, जिसमें वह कह रहा है कि उसने कोई लिफाफा नहीं चुराया।

बारनेट उत्तर पश्चिमी अरकंसास के ग्रावेटे से है और उसने सोशल मीडिया पर अपनी पहचान ट्रंप समर्थक और बंदूक अधिकारों की वकालत करने वाले शख्स के तौर पर बताई है।

एपी स्नेहा शोभना

शोभना

Share This

0 Comments

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password