श्रीनगर मुठभेड़ में मारे गए तीन ‘आतंकवादियों’ के परिवारों ने उनके शव मांगे

श्रीनगर, चार जनवरी (भाषा) श्रीनगर शहर के बाहरी इलाके में स्थित परिमपोरा में पिछले सप्ताह सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में मारे गए तीन कथित आतंकवादियों के परिवारों ने सोमवार को उनके शव वापस करने और घटना की निष्पक्ष जांच की मांग की।

सुरक्षा बलों के अनुसार, 31 दिसंबर को मुठभेड़ में एजाज मकबूल गनई, जुबैर अहमद लोन और अतहर मुश्ताक वानी मारे गए थे। पुलिस ने कहा कि वे उसके रिकॉर्ड में आतंकवादी के रूप में सूचीबद्ध नहीं थे लेकिन उनमें से दो ‘‘कट्टरपंथी’’ विचार के थे।

मुठभेड़ में मारे गए युवाओं के रिश्तेदारों ने यहां रेजीडेंसी रोड पर विरोध प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों ने हाथों में तख्तियां ले रखी थीं जिन पर लिखा था कि ‘‘हम न्याय चाहते हैं’’ और ‘‘निर्दोषों को मारना बंद करो।’’ उन्होंने मांग की कि उनके शव उन्हें सौंप दिए जाएं ताकि वे उनका अंतिम संस्कार कर सकें।

परिवारों ने इस घटना की निष्पक्ष जांच की भी मांग की। उनका आरोप है कि यह एक फर्जी मुठभेड़ थी।

पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती और नेशनल कान्फ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला मुख्यधारा के उन कई नेताओं में शामिल हैं जिन्होंने शवों को उनके परिवारों को देने की मांग की है।

भाषा अमित नीरज

नीरज

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password