Fact Alcohol Type: क्या आपको भी शराब के अलग नामों को सुनकर होता है कंफ्यूजन ? जानिए इस खबर में इनका अंतर

Fact Alcohol Type: क्या आपको भी शराब के अलग नामों को सुनकर होता है कंफ्यूजन ? जानिए इस खबर में इनका अंतर

Fact Alcohol: जैसा कि, शराब पीना शौकीनों की पसंद होती है वे किसी न किसी समय पर शराब का पैग लगाने के लिए समय निकाल ही लेते है। शराब देशी और विदेशी होती है तो हमको इसके कई अलग-अलग प्रकार भी सुनने के लिए मिलते है जिसमें रम, वोदका, वाइन, व्हिस्की सुनकर आप भी कंफ्यूज हो जाते है कि, शराब के इतने भी नाम होते है। इस खबर में आज आप इनके प्रकारों के बारे में जान सकते है।

 

जानें क्या होता है इनमें अंतर

आपको बताते चलें कि, रम, वोदका, वाइन और व्हिस्की में अंतर नाम ही नहीं बल्कि अल्कोहल की मात्रा को लेकर भी होता है। इसमें स्वाद और कलर भी देखने को मिलता है।

वोदका-

फिल्मों में अक्सर आपने वोदका जैसा शब्द तो सुना ही होगा। जिसमें पानी  की तरह दिखने वाली वोदका में 40 से 60 प्रतिशत तक अल्कोहल होती है। जिसमें खुमार बहुत तेज और असरदार होता है. पूर्वी यूरोप और रूस इसके उत्पादन के लिए प्रसिद्ध है. वोदका को बनाने के लिए अनाज और शीरे को उपयोग में लाया जाता है.

वाइन-

बहुत कम अल्कोहल और अपने बेहतरीन स्वाद के लिए वाइन शराब के शौकीनों की पसंद होती है वहीं पर  लोग सामान्य तौर पर भी इसे काफी पीते हैं. कहते हैं कि संतुलित मात्रा में वाइन पीना सेहत के लिए भी लाभदायक होती है. इसमें 9 से 18 प्रतिशत तक अल्कोहल होता है. इसे बनाने के लिए अंगूर जैसे फल का उपयोग किया जाता है।

रम- 

आपको बताते चलें कि, रम का स्वाद और कीमत की बात की जाए तो कम होता है। जिसमें अल्कोहल प्रतिशत वाली रम को लोग सर्दियों में पीना ज्यादा पसंद करते हैं. इसमें अल्कोहल का 40 प्रतिशत से ज्यादा होता है. इसे बनाने के लिए गन्ने के रस का किण्वन किया जाता है।

व्हिस्की-

यहां पर गेहूं और जौ जैसे अनाज से बनने वाली व्हिस्की में 30 से 65 प्रतिशत तक अल्कोहल हो सकता है. सामान्यत: इसमें अल्कोहल की मात्रा को 40 प्रतिशत के आसपास रखा जाता है. यूरोप में व्हिस्की का उत्पादन बड़े पैमाने पर होता है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password