Budget 2024: बजट में महिलाओं के लिए बड़ी घोषणा,

Budget 2024: बजट में महिलाओं के लिए बड़ी घोषणा,3 करोड़ लखपति दीदी बनाने का लक्ष्य, आयुष्मान भारत के दायरे में आंगनबाड़ी कार्यकर्ता

Budget 2024
Share This

हाइलाइट्स 

  • बजट में महिलाओं पर स्पेशल फोकस
  • ‘बजट में ‘नारी शक्ति’ पर ज़ोर’
  • महिलाओं के लिए बड़ी घोषणा

Budget 2024: आज यानी 1 फरवरी को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण 2024-25 के लिए बजट पेश कीं । यह अंतरिम बजट है, क्योंकि अप्रैल-मई में आम चुनाव होने हैं। नई सरकार बनने के बाद पूर्ण बजट जुलाई में पेश होने की उम्मीद है।

वित्त मंत्री सीतारमण के कार्यकाल का यह छठा बजट है।

देश की नारी शक्ति को लगातार बढ़ाने में जुटी मोदी सरकार अपने दूसरे कार्यकाल के आखिरी बजट में नारी शक्ति के लिए कुछ बड़ा ऐलान किया है।  साथ ही उन्हें लेकर क्या किया जा सकता है इस पर भी चर्चा की है।

‘नारी शक्ति’ की चर्चा करते हुए वित्त मंत्री सीतारमण ने कहा, “10 वर्षों में उच्च शिक्षा में महिला नामांकन 28% बढ़ा है,  एसटीईएम पाठ्यक्रमों में 43% नामांकन लड़कियों और महिलाओं का है, जो दुनिया मे सबसे अधिक है।” उन्होंने कहा कि ये सभी कदम कार्यबल में महिलाओं की बढ़ती भागीदारी में परिलक्षित होते हैं।

सीतारमण ने कहा कि मोदी सरकार ने तीन तलाक को अवैध बनाया और संसद और राज्य विधानसभाओं में महिलाओं के लिए 1/3 सीटें आरक्षित कीं हैं। उन्होंने कहा कि पीएम आवास योजना के तहत 70 प्रतिशत से अधिक घर महिलाओं को मिलने से उनका सम्मान बढ़ा है।

   बजट में महिलाओं पर स्पेशल फोकस, हुए ये ऐलान

   आशा बहनों को भी आयुष्मान योजना का लाभ दिया जाएगा

बजट में लखपति दीदी योजना को विस्तारित किया गया है। टार्गेट 2 करोड़ से बढ़ाकर 3 करोड़ किया गया है और सर्वाइकल कैंसर के वैक्सीनेशन पर ध्यान दिया जाएगा।  9-14 साल की लड़कियों के टीकाकरण पर ध्यान दिया जाएगा। मातृ और शिशु देखरेख की योजनाओं को भी बढ़ावा मिलेगा।

    बजट में महिलाओं-बच्चों पर ध्यान, मध्यम वर्ग के लिए आवास योजना

निर्मला ने बताया, हमारी सरकार सर्वाइकल कैंसर के वैक्सीनेशन पर ध्यान देगी। मातृ और शिशु देखरेख की योजनाओं को व्यापक कार्यक्रम के अंतर्गत लाया गया। 9-14 साल की लड़कियों के टीकाकरण पर ध्यान दिया जाएगा।

 

    3 करोड़ लखपति दीदी बनाने का लक्ष्य

मत्स्य संपदा योजना से 55 लाख को नया रोजगार मिला। 5 इंटीग्रेटेड एक्वापार्क स्थापित किए जाएंगे। करीब 1 करोड़ महिलाएं लखपति दीदी बनीं। अब 3 करोड़ लखपति दीदी बनाने का लक्ष्य है।सरकार ने महिलाओं को 30 करोड़ कर्ज दिया।

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password