दुमका, जामताड़ा और गोड्डा से आठ साइबर अपराधी गिरफ्तार

दुमका, दो जनवरी (भाषा) झारखंड की दुमका पुलिस ने जामताड़ा, गोड्डा और दुमका से विशेष अभियान के दौरान आठ साइबर अपराधियों को गिरफ्तार किया है।

दुमका के पुलिस अधीक्षक अंबर लकड़ा ने बताया कि गिरफ्तार आरोपियों की उम्र 20 से 27 वर्ष के बीच है। पुलिस ने इनके पास से लगभग डेढ़ लाख रुपये नकद, 29 एटीएम कार्ड, 10 मोबाइल फोन, 34 फर्जी सिमकार्ड, पांच पासबुक बरामद किए हैं।

उन्होंने बताया कि ये अपराधी साइबर ठगी करने के बाद रुपयों की निकासी के लिए मजदूरों के एटीएम कार्ड और बैंक खातों का इस्तेमाल करते थे।

लकड़ा ने शनिवार को बताया कि साइबर अपराधियों के दुमका में सक्रिय होने की सूचना पर डीएसपी विजय कुमार और मुफस्सिल थानेदार नवल किशोर सिंह के नेतृत्व में एक विशेष टीम का गठन किया गया था जिसने छापेमारी में यह गिरफ्तारियां कीं।

उन्होंने कहा कि छापेमारी के क्रम में जामताड़ा जिले के फतेहपुर थाना क्षेत्र के जामबाद गांव के विवेक कुमार मंडल, नारायणपुर थाना क्षेत्र के पतरोडीह गांव के मुकेश मंडल, गोड्डा जिला के नगर थाना क्षेत्र के कौशल कुमार, दुमका जिला के मसलिया थाना क्षेत्र के बड़ा डुमरिया गांव के निजाम अंसारी उर्फ शमीम, शिकारीपाड़ा थाना क्षेत्र के दुधानी ढाका गांव के जियाउल अंसारी, इसी गांव के सलाम अंसारी और नेमूल अंसारी तथा जामा थाना क्षेत्र के छैलापाथर गांव के जियाउल अंसारी को गिरफ्तार किया गया है।

इनके पास से 1 लाख 47 हजार 300 रुपये, 34 फर्जी सिमकार्ड, साइबर अपराध के लिए इस्तेमाल में लाये जानेवाला 10 मोबाइल फोन, 29 एटीएम कार्ड और पांच पासबुक एवं एक कार बरामद की गयी है।

अधिकारी ने बताया कि एक बैंक के खाते में कथित तौर पर साइबर ठगी के दो लाख रुपये रखे गये हैं जिसे बैंक को निर्देश देकर फ्रीज करवा दिया गया है। सभी आरोपियों के खातों की जांच की जा रही है।

उन्होंने कहा कि गिरफ्तार आरोपियों की संपत्ति की भी जांच की जा रही है और यदि जांच में अर्जित संपत्ति के अवैध तरीके से हासिल करने के साक्ष्य मिलते हैं तो नियमानुसार कार्रवाई करते हुए ऐसी संपत्ति को जब्त करने का प्रावधान है। इस गिरोह में दो-तीन और अपराधी शामिल हैं जिन्हें भी जल्द गिरफ्तार कर लिया जायेगा।

भाषा, संवाद, इन्दु, शफीक

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password