Education Minister Inder Singh Parmar In Shajapur : समग्र मूल्यांकन को लेकर शिक्षा मंत्री का बड़ा बयान! पढ़ाई के अलावा इसके भी मिलेंगे नंबर

Education Minister Inder Singh Parmar In Shajapur : समग्र मूल्यांकन को लेकर शिक्षा मंत्री का बड़ा बयान! पढ़ाई के अलावा इसके भी मिलेंगे नंबर

रिपोर्ट । आदित्य शर्मा
शाजापुर। शिक्षा के क्षेत्र में विभाग Education Minister Inder Singh Parmar In Shajapur  द्वारा नए—नए कदम उठाए जा रहे हैं। इसी क्रम में अब एक नई पहल करते हुए प्रदेश में ओपन बोर्ड के द्वारा 53 स्कूल संचालित कर रहे है। उन स्कूलो में आर्टिफिशियल इंटलीजेंस विषय को 240 घंटे के पाठ्यक्रम के साथ में सरकार अगले सत्र से पढ़ाने जा रही है। यह बात शाजापुर पहुँचे प्रदेश के स्कूल शिक्षा मंत्री इंदरसिंह परमार ने कही। इस अवसर पर उन्होंने 617.82 लाख से बनने वाले महाविद्यालय का भूमिपूजन भी किया।

प्रदेश में ओपन बोर्ड के द्वारा 53 स्कूल संचालित कर रहे है उन स्कूलो में आर्टिफिशियल इंटलीजेंस विषय को 240 घंटे के पाठ्यक्रम के साथ में अगले सत्र से पढ़ाने जा रही है सरकार। 01 प्रदेश में नया प्रयोग करने जा रही है सरकार भारत के अन्य राज्यों की भाषाएं ज्ञान के लिए प्रदेश के विद्यार्थी पढ़े इसके लिए प्रयास किये जा रहे है जितने शिक्षक उपलब्ध होगे उसमें ओपन बोर्ड के 52 जिलो के 53 स्कूलो में पढ़ाई करायी जायेगी उसकी तैयारी सरकार करने जा रही है।

परंपरागत कलाओं को मिलेगा बढ़ावा —
प्रदेश के शुजालपुर में एक ट्रेनिंग सेन्टर भी बनाया जा रहा है जिसमे हेण्डलूम, मिट्टी कला, बॉसकला, सौर ऊर्जा के मरम्मत व मैकेनिकल लाईन में काम करने वाले लोगो को तैयार किया जायेगा। ऐसा एक नया प्रयोग किया जा रहा है जिसमें 5वीं व 8वीं पास कर पढ़ाई छोड़ चुके या 10वीं फेल लोग इस ट्रेर्निंग सेन्टर पर प्रशिक्षण प्राप्त कर सकेंगे। जो बेरोजगार है उन्हें रोजगार के साथ जोड़ने वाले है यह नया प्रयोग सरकार प्रदेश में करने जा रही है।

समग्र मूल्यांकन का मिलेगा लाभ —
समग्र मूल्यांकन में वर्ष भर की गतिवीधियों को सरकार सम्मिलित करने जा रही है। ताकि बच्चा जो अन्य-अन्य गतिविधियों में है उसको उसका भी वैटेज मिलेगा। खेल में है तो खेल का, स्कॉउट में है तो स्कॉउट का, एनसीसी में है तो एनसीसी का। अन्य किसी कला में निपुण हैं, तो उसको लाभ मिलेगा। इसे भी सरकार अगले सत्र से प्रारंभ करने जा रही है।

सभी वर्गों के लिए एक समान छात्रावास —
स्कूल शिक्षा व ट्राइवल विभाग ने कुछ छात्रावास ऐसे बनाने का निर्णय लिया है जिसमे सभी वर्ग के छात्र एक साथ रह कर पढ़ सके, ऊच नीच का भाव समाप्त हो और नये भारत का निर्माण समाज के द्वारा करना है ऐसा समाज छात्रावासो से प्रेरित होकर विद्यार्थी एक-दूसरे में सदभावना के साथ रह कर सीख सके अच्छे संस्कार ग्रहण कर सके अपने महापुरूषो से प्रेरणा लेने का बड़ा काम भी वहां कर सकेगे ऐसे छात्रावास बनाने की सरकार की योजना है।

617.82 लाख रूपये लागत से बनेगा महाविद्यालय

शाजापुर के गुलाना तहसील मुख्यालय में 6 करोड़ 17 लाख 82 हजार रूपये लागत से बनने वाले शासकीय महाविद्यालय भवन का भूमिपूजन प्रदेश के स्कूल शिक्षा मंत्री एवं सामान्य प्रशासन राज्यमंत्री इंदरसिंह परमार व भाजपा जिला अध्यक्ष अम्बाराम कराडा ने किया। बनने वाले भवन में भूतल पर 4 क्लासरूम, प्राचार्य कक्ष, कांफ्रेंस कक्ष, स्टाफ रूम, लेखा कक्ष, गर्ल्स एवं ब्वायज कॉमन रूम, लाईब्रेरी, कम्प्यूटर लेब, केंटीन का निर्माण होगा वहीं प्रथम तल पर कम्प्यूटर लेब, होमसाईंस लेब, 4 क्लास रूम, 2 भौतिक एवं 2 रसायन प्रयोगशाला, एक सामान्य प्रयोगशाला सहित अन्य कक्षो का निर्माण किया जायेगा।भवन तीन वर्ष की गारंटी के साथ 15 माह में तैयार किया जायेगा जिससे अध्ययनरत छात्र-छात्राओं को अध्ययन करने में सहायता मिलेगी।
भूमिपूजन समारोह में स्कूल शिक्षा मंत्री श्री परमार ने दो लोगो को 4-4 लाख रूपये के आर्थिक अनुदान सहायता राशि स्वीकृति पत्र भी वितरित किये।

खबर एक नजर —
प्रदेश में भारत के अन्य प्रांत की भाषाएं सीख सकेगे स्कूल में विद्यार्थी।
समरसता लाने के लिए बनायें जायेगे नये छात्रावास।
स्कूल शिक्षा विभाग व ट्रायवल विभाग ने लिया निर्णय।
आर्टिफिशियल इंटलीजेंस पाठ्यक्रम होगा प्रारंभ।
समग्र मूल्याकंन अगले सत्र से किया जायेगा प्रारंभ।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password