Hemant Soren: सीएम हाउस में हेमंत सोरेन से 1 बजे ED करेगी पूछताछ

हेमंत सोरेन ने ED के खिलाफ दर्ज कराई SC/ST एक्ट के तहत शिकायत, सीएम से लगातार पूछताछ जारी

Hemant-Soren
Share This

हाइलाइट्स

  • मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से ED की पूछताछ
  • राजभवन और ED ऑफिस के बाहर धारा 144
  • हेमंत सोरेन ने ED अधिकारियों के खिलाफ कराई शिकायत दर्ज
  • सीएम से लगातार पूछताछ जारी

 

Hemant Soren: झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की मुश्किलें बढ़ गई हैं। रांची भूमि घोटाले मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने पूछताछ के लिए नोटिस जारी किया हैं.जमीन घोटाले में झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से आज ईडी दोबारा पूछताछ करेगी। झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की पूछताछ से पहले रांची के प्रमुख इलाकों में निषेधाज्ञा लागू कर दी गई है। राजधानी में कानून-व्यवस्था की स्थिति पर नजर रखने के लिए तीन सदस्यीय टीम का गठन किया गया है। अधिकारियों ने बुधवार को यह जानकारी दी।

हेमंत सोरेन की ED अधिकारियों के खिलाफ शिकायत

झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन ने प्रवर्तन निदेशालय के अधिकारियों के खिलाफ  SC/ST एक्ट के तहत शिकायत दर्ज कराई है. जिसकी पुष्टि रांची के एसएसपी द्वारा की गई है.

   सीएम समर्थक हुए एकत्रित 

ED हेमंत सोरेन से पूछताछ कर रहें हैं. इस दौरान आवास के बाहर हेमंत सोरेन के समर्थक भी इखट्टे हो गए हैं.समर्थक  बड़ी  संख्या में मिलकर विरोध-प्रदर्शन की तैयारी कर सकतें हैं.

   सीएम आवास पहुंचे झामुमो के विधायक 

ईडी की पूछताछ से पहले बुधवार को सत्तारूढ़ झारखंड मुक्ति मोर्च (झामुमो) नीत गठबंधन के विधायक झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के आवास पर पहुंचे। झारखंड मुक्ति मोर्चा के कार्यकारी अध्यक्ष के रांची में अपने आधिकारिक आवास पहुंचने और विधायकों के संग बैठक करने के साथ ही यह अनिश्चिता भी दूर हो गई थी कि वह मंगलवार को कहां थे।

बैठक में मुख्यमंत्री की पत्नी कल्पना सोरेन भी मौजूद रहीं। सीता सोरेन विधानसभा में जामा निर्वाचन क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करती हैं। एक विधायक ने नाम न उजागर करने की शर्त पर कहा, ‘‘परिवार के भीतर सत्ता को लेकर खींचतान स्पष्ट है, लेकिन सरकार के लिए किसी भी खतरे के मुद्दे पर वे सभी एकजुट हैं। मुख्यमंत्री के भाई एवं विधायक बासन सोरेन ने भी अपने पक्ष में बात कही है।

11:50 am

   मंगलवार को अवास पर पंहुचे सीएम सोरेन

कथित भूमि घोटाले से जुड़े धन शोधन मामले में सोरेन का बयान दर्ज करने के लिए ईडी के अधिकारी दोपहर एक बजे के आसपास मुख्यमंत्री आवास पर जाने वाले हैं। मुख्यमंत्री कहां हैं, इस बारे में गहन राजनीतिक नाटक पर संशय खत्म करते हुए सोरेन मंगलवार को यहां अपने आधिकारिक आवास पहुंचे और अपने गठबंधन के विधायकों की बैठक की अध्यक्षता की थी।

संबंधित खबर:

Jharkhand Politics: CM आवास पर चली डेढ़ घंटे बैठक, हेमंत सोरेन की बढ़ी मुश्किलें, पत्‍नी को सीएम बनाने की चर्चा

10:30 am

   7,000 पुलिसकर्मियों की तैनाती

इधर राजधानी रांची में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए है। शहर के प्रमुख चौक-चौराहों पर सुरक्षा बल तैनात किए गए हैं। इसके साथ ही ईडी कार्यालय, राजभवन और मुख्यमंत्री आवास के आसपास धारा 144 लगाया गया है। ईडी के अधिकारी दोपहर 1 बजे सीएम हाउस पूछताछ के लिए पहुंचेंगे। इससे पहले 20 जनवरी को ईडी ने साढ़े सात घंटे पूछताछ की थी। पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) अजय कुमार सिंह ने मंगलवार को कहा था कि कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए पूरे झारखंड में व्यापक सुरक्षा इंतजाम किए गए हैं जिसमें अतिरिक्त 7,000 पुलिसकर्मियों की तैनाती भी शामिल है।

   ऑफिस के बाहर लगी धारा 144

एक आधिकारिक जानकारी के अनुसार, दंड प्रक्रिया संहिता (सीआरपीसी) की धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा आदेश मुख्यमंत्री आवास, राजभवन और डोरंडा स्थित ईडी कार्यालय सहित प्रमुख स्थानों पर 100 मीटर के दायरे में सुबह नौ बजे से रात 10 बजे तक प्रभावी रहेंगे। प्रतिबंध के तहत इन क्षेत्रों में और इसके आसपास प्रदर्शन, रैलियां या बैठकें आयोजित नहीं की जा सकतीं। विशेष टीम का नेतृत्व वित्त सचिव प्रशांत कुमार कर रहे हैं। इसमें खनन निदेशक अरवा राजकमल और विशेष शाखा के महानिरीक्षक (आईजी) प्रभात कुमार भी शामिल हैं।

10:00 am

   पिछले 24 घंटे गायब थे हेमंत सोरेन

झारखंड सीएम हेमंत सोरेन बीते 24 घंटे से कहां है, इसकी किसी को जानकारी नहीं है। इधर हेमंत सोरेन के दिल्ली आवास से ईडी ने 36 लाख कैश बरामद किए थे। दो कार भी जब्त हुए थे। प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने दिल्ली पुलिस से कहा था कि झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को खोजकर लाएं।

 

   भाजपा प्रदेशाध्यक्ष ने ट्वीट किया था गुमशुदा पोस्टर 

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष बाबूलाल मरांडी ने ट्वीट करके कहा है कि तलाश है झारखंड के गुमशुदा मुख्यमंत्री की… जिन किसी भी सज्जन को यह व्यक्ति दिखें तो, दिए गए पते पर तुरंत सूचित करें। सही जनकारी देने वाले को 11 हजार रुपये नगद राशि दी जाएगी।

सीएम हेमंत सोरेन (Hemant Soren) ने ईडी के असिस्टेंट डायरेक्टर देवव्रत झा (Devvrat Jha) को मेल के जरिए भेजे गए पत्र में कहा है कि आपकी ओर से की जा रही कार्रवाई पॉलिटिकल एजेंडा (Political Agenda) के तहत राज्य की सरकार के कामकाज को बाधित करने और निर्वाचित जनप्रतिनिधि को उसकी ऑफिशियल ड्यूटी से रोकने की दुर्भावनापूर्ण कोशिश है।

   25 जनवरी को ईडी ने भेजा था समन

ईडी ने 25 जनवरी को सीएम सोरेन को समन भेजा था, जिसमें उन्हें बयान दर्ज कराने के लिए 29 से 31 जनवरी के बीच का समय तय करने को कहा गया था।  इसके जवाब में सोरेन ने सोमवार को दोपहर 1 बजकर 33 मिनट पर मेल भेजा है।

इसमें उन्होंने कहा है कि वे 31 जनवरी को दिन के एक बजे अपने आवास पर बयान दर्ज कराएंगे।

   क्या कहा हेमंत सोरेन ने?

सोरेन ने लिखा है कि आप भलीभांति अवगत हैं कि 2 फरवरी से 29 फरवरी के बीच विधानसभा का बजट सत्र आयोजित होना है, जिसकी तैयारी को लेकर उनकी व्यस्तता है।  इसके साथ ही उनकी पूर्वनिर्धारित ऑफिशियल व्यस्तताएं हैं।

इसके बावजूद 31 जनवरी या उसके पहले उनका बयान दर्ज करने के लिए जोर दिए जाने से आपका पॉलिटिकल एजेंडा उजागर हो गया है।  उन्हें समन जारी किया जाना कानून की ओर से दी गई शक्तियों का दुरुपयोग और पूरी तरह उन्हें परेशान करने की कार्रवाई है।

   घर में न होने का मतलब भागना नहीं : परिवार

पहचान जाहिर किए बिना हेमंत के परिजन ने कहा, घर में नहीं होने का मतलब भागना नहीं है। यह कोई वारंट नहीं है कि उन्हें उपलब्ध रहना होगा। वह दिल्ली में हैं और जल्द रांची पहुंचेंगे। उनकी तबीयत ठीक है और वह दिल्ली में अपने काम में व्यस्त थे।

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password