Indore Drug Case: इम्यूनिटी बूस्टर बताकर इंदौर में खपा दी करोड़ों की ड्रग, 70 करोड़ ड्रग केस में पुलिस ने किया नया खुलासा

इंदौर। प्रदेश की आर्थिक राजधानी कहे जाने वाले इंदौर में कुछ समय पहले पुलिस ने 70 करोड़ रुपए कीमत की एमडीएमए (Methyl​ene dioxy ​meth amphetamine) बरामद की थी। इसमें पकड़े गए आरोपियों से लगातार पूछताछ की जा रही है। इस केस में पुलिस ने शुक्रवार को एक नया खुलासा किया है। पुलिस ने सदर बाजार में रहने वाले ड्रग तस्कर रईस को गिरफ्तार किया है। रईस इस ड्रग को इम्यूनिटी बूस्टर बताकर बेचा करता था। पुलिस ने खुलासा किया है कि गिरफ्तार किया गया तस्कर रईस कोरोना काल में एमडीएमए ड्रग को इम्यूनिटी बूस्टर बताकर बेचा करता था। पुलिस ने बताया कि आरोपी कोरोना काल में रोजाना 100 से ज्यादा लोगों को इम्यूनिटी बूस्टर के नाम पर ड्रग बेचा करता था। लॉकडाउन के दौरान रईस ने कई लोगों को इस ड्रग का आदी भी बनाया है।
एक फर्जी पत्रकार को भी किया था गिरफ्तार
इसी मामले में पुलिस ने हाल ही में एक फर्जी पत्रकार को गिरफ्तार किया था। जो एक न्यूज पोर्टल की आईडी की आड़ में ड्रग तस्करी करता था। इतना ही नहीं आरोपी ने लॉकडाउन में डेढ़ करोड़ की ड्रग सप्लाई कर डाली। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार किया था। इंदौर क्राइम ब्रांच के मुताबिक जूना रिसाला निवासी शाहिद खान को गिरफ्तार किया गया था। आरोपी एक न्यूज पोर्टल चलाता था। इसी की आड़ में ड्रग की सप्लाई करता था। लॉकडाउन में आरोपी ने प्रेस आईडी की आड़ करोड़ों रुपए की ड्रग सप्लाई की है।

पुलिस ने बताया कि दरअसल पूर्व में पकड़ाए दिनेश अग्रवाल से रईस और शाहिद की जानकारी मिली थी। तभी से शाहिद फरार चल रहा था। शाहिद को पुलिस ने उसके घर से गिरफ्तार किया है। आरोपी ने ड्रग सप्लाई करना कबूल किया है। आरोपी लॉकडाउन में प्रेस आईडी लेकर शहर में घूमता था और ड्रग सप्लाई करता था। पुलिस ने बताया कि आरोपी अब तक 1.5 करोड़ रुपए की ड्रग सप्लाई कर चुका है। पुलिस ने शाहिद को गिरफ्तार कर लिया था। इसके बाद इसी केस से जुड़े आरोपियों से पूछताछ कर रही है। इस मामले में नए-नए खुलासे हो रहे हैं।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password