BoxamTournament: मुक्केबाजी टूर्नामेंट का ड्रॉ घोषित, मैरी कॉम, अमित पंघाल सहित 12 भरतीय क्वार्टर फाइनल में

नई दिल्ली। (भाषा) छह बार की विश्व चैंपियन एमसी मेरीकोम (marry kom) और एशियाई खेलों के स्वर्ण पदक विजेता अमित पंघाल उन 12 भारतीय मुक्केबाजों में शामिल हैं जो स्पेन के केस्टोलोन में बॉक्सेम इंटरनेशल टूर्नामेंट (Boxam International Tournament) में पदक जीतने से सिर्फ एक जीत दूर हैं। इन सभी को ड्रॉ में क्वार्टर फाइनल में जगह मिली है। टूर्नामेंट में भारत के तोक्यो ओलंपिक कोटा हासिल करने वाले सभी नौ मुक्केबाजों के अलावा पांच अन्य मुक्केबाज भी हिस्सा ले रहे हैं।

मेरीकोम भिड़ेंगी गियोर्डाना से 

पिछले साल ओलंपिक के लिए क्वालीफाई (Boxam International Tournament) करने के बाद पहली बार चुनौती पेश कर रही मेरीकोम (51 किग्रा) बुधवार को अपने पहले मुकाबले में इटली की गियोर्डाना सोरेनटिनो से भिड़ेंगी। पिछले साल दिसंबर में जर्मनी में कोलोन विश्व कप में स्वर्ण पदक जीतने वाले पंघाल (52 किग्रा) को पहले दौर में बाई मिली है और वह क्वार्टर फाइनल में स्थानीय दावेदार गैब्रियल एस्कोबार से भिड़ेंगे। तोक्यो ओलंपिक में पदक के दावेदारों में शामिल विकास कृष्ण (69 किग्रा) को भी पहले दौर में बाई मिली है और वह क्वार्टर फाइनल में इटली के विन्सेंजो मेंगियाकापरे से भिड़ेंगे।

सतीश ओलंपिक में देश के पहले हैवीवेट मुक्केबाज

ड्रॉ में कम खिलाड़ियों के कारण एशियाई चैंपियनशिप (Boxam International Tournament) के रजत पदक विजेता आशीष कुमार (75 किग्रा) और सुमित सांगवान (81 किग्रा) को भी सीधे क्वार्टर फाइनल में जगह मिली है। सांगवान डोपिंग निलंबन के बाद प्रतिस्पर्धी मुक्केबाजी में वापसी कर रहे हैं क्योंकि बाद में उन्हें पाक साफ करार देकर निलंबन हटा दिया गया। आशीष और सतीश कुमार (91 किग्रा से अधिक) तोक्यो के लिए क्वालीफाई कर चुके हैं। सतीश ओलंपिक में जगह बनाने वाले देश के पहले सुपर हैवीवेट मुक्केबाज हैं। सतीश भी क्वार्टर फाइनल से अपना अभियान शुरू करेंगे। संजीत (91 किग्रा) के अलावा महिला वर्ग में जास्मीन और मनीषा (57 किग्रा) भी बाई मिलने से क्वार्टर फाइनल से अपना अभियान (Boxam International Tournament) शुरू करेंगी।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password