Dhanteras 2022 : न हों कंफ्यूज, दो दिन नहीं बल्कि 22 अक्टूबर को ही मनेगी धन तेरस, ये है शास्त्रों में वर्णित कारण

Dhanteras 2022 : न हों कंफ्यूज, दो दिन नहीं बल्कि 22 अक्टूबर को ही मनेगी धन तेरस, ये है शास्त्रों में वर्णित कारण

नई दिल्ली। Dhanteras 2022 : अगर आप भी धनतेरस की तिथि Dhanteras 2022 : kub hai को लेकर कंफ्यूज हैं तो हम आपका कंफ्यूजन दूर कर देते हैं। life style ताकि आप शुभ मुहूर्त में खरीदारी और कर सकें। दरअसल जगह लोगों में भ्रम की स्थिति है कि कुछ विशेष नक्षत्रों के संयोग के कारण धनतेरस दो दिन यानि 22 अक्टूबर और 23 अक्टूबर को मनाया जा सकता है। पर ऐसा नहीं है। पंडित रामगोविंद शास्त्री के अनुसार धनतेरस से पांच दिनी दीपोत्सव का त्योहार शामं काल का त्योहार माना जाता है। चूंकि तेरस शायं तिथि में आ रही है इसलिए धनतेरस 22 अक्टूबर को ही मनाई जाएगी न कि 23 अक्टूबर को।

22 अक्टूबर को ही क्यों मनेगी धनतेरस —
पंडित राम गोविंद शास्त्री के अनुसार 22 अक्टूबर को शाम 4:19 मिनिट पर तैरस तिथि आ रही है। चूंकि दीपोत्सव का त्योहार शायं काल का ही माना जाता है इसलिए धनतेरस 22 अक्टूबर को ही मनाई जाएगी। आपको बता दें शायं काल यानि सूर्यास्त के दौरान तेरस तिथि होने से लक्ष्मी पूजन शाम को ही होगा। शास्त्र संवत लक्ष्मी पूजन शाम को होता है। इसलिए ऐसा होगा। आपको बता दें 23 अक्टूबर को तेरस तिथि शाम 4:50 मिनिट तक है। इसके बाद रूप चौदस लग जाएगी। यानि तेरस तिथि सूर्यास्त के पहले ही 23 अक्टूबर को समाप्त हो जाएगी। इसलिए ये पर्व 23 अक्टूबर को नहीं मनाया जाएगा। 23 अक्टूबर को शाम 4:50 मिनिट के बाद चौदस तिथि आ जाएगी। यानि इस दिन रूप चौदस होगी। इस महिलाएं सज संवरकर तैयार होती हैं।

कब कौन सी तिथि —

तैरस तिथि 22 अक्टूबर प्रारंभ : शाम 4:19 मिनिट से प्रारंभ
तैरस तिथि 23 अक्टूबर समाप्त : शाम 4:50 मिनिट पर समाप्त
चौदस तिथि 23 अक्टूबर प्रारंभ : शाम 4:50 मिनिट से शुरू

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password