क्राइसिस मैनेजमेंट की बैठक में फैसला, इस बार नहीं होगा सार्वजनिक होलिका दहन, रात 9 बजे बंद होंगे बाजार

इंदौर: शहर में गुरुवार को क्राइसिस मैनेजमेंट की बैठक हुई जिसमें फैसला लिया गया है कि इंदौर में बढ़ रहे कोरोना संक्रमण को देखते हुए इस बार सार्वजनिक रूप से होलिका दहन नहीं किया जाएगा, धुलेंडी व रंग पंचमी पर लॉकडाउन जैसी सख्ती रहेगी। साथ ही शब ए बरात के सार्वजनिक कार्यक्रम पर पाबंदी लगा दी गई है।

बैठक में हुए फैसले के अनुसार आज से अगले आदेश तक सभी धर्मस्थल बंद रहेंगे। धर्मस्थलों में सिर्फ पुजारी, धर्मगुरु ही पूजा-पाठ कर पाएंगे। इसके अलावा रात को 10 बजे तक रेस्त्रां से खाना पार्सल करवा सकेंगे, लेकिन वहां बैठकर खाने पर प्रतिबंध लगाया गया है। बाजार रात 10 के बजाय रात 9 बजे बंद हो जाएंगे।

गरुवार को मिले 612 कोरोना मरीज
संक्रमण की रफ्तार इंदौर में बढ़ती जा रही है। गुरुवार की बात करें तो 612 कोरोना पेशेंट्स मिले हैं, दो लोगों की मौत हो चुकी है। इसलिए आपदा प्रबंधन समिति ने कोरोना के चलते इस बार कड़े फैसले लिए।

ये हैं फैसलों के कुछ जरुरी प्वॉइंट्स

होलिका दहन, शबे बरात- घर पर ही मनाएं। बाहर न जाएं।
बाजार, मॉल, दुकान- रात 9 बजे बंद। दूध डेयरी व राशन की थोक-खेरची दुकान पर पाबंदी नहीं।
मेडिकल स्टोर, अस्पताल- खुलें रहेंगे
यात्रियों की आवाजाही- जारी।
रेस्त्रां- रात 10 बजे तक केवल पार्सल ले सकेंगे।
होस्टल मैस, टिफिन सेंटर- चालू रहेंगे। कोई पाबंदी नहीं।
शादी- 50 लोगों के साथ आयोजन। मंजूरी की जरूरत नहीं। बैंड-बाजा बुला सकेंगे। बारात नहीं।
शवयात्रा- 20 लोग जा सकेंगे।
उठावना, मृत्यु भोज- नहीं
मैरिज गार्डन, होटल, फार्म हाउस पर आयोजन- नहीं।
जिम, स्विमिंग पूल- बंद
क्लब- इंडोर गतिविधियां बंद, ओपन कोर्ट, मैदान खुले रहेंगे, यहां घूमने जा सकेंगे।
परीक्षा- प्रतियोगी परीक्षाओं सहित अन्य सभी परीक्षाओं पर पाबंदी नहीं। परीक्षार्थी, शिक्षक आदि केंद्र तक आ-जा सकेंगे।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password