Coronavirus: आज से MP में ‘एंटीबॉडी कॉकटेल’ का ट्रायल शुरू, जानिए कैसे काम करता है यह इंजेक्शन

antibody cocktail

भोपाल। ‘एंटीबॉडी कॉकटेल’ इंजेक्शन का ट्रायल अब मध्य प्रदेश में भी शुरू हो गया है। इस इंजेक्शन में कई दावाओं का मिश्रण होता है। जानकारी के मुताबिक इसकी खेप मप्र के कई मेडिकल कॉलेजों में ट्रायल के लिए भेजी जा चुकी है। इसका ट्रायल आज से शुरू हो गया है। इस इंजेक्शन को माइल्ड और मॉडरेट संक्रमित पेशेंट को दिया जाएगा और उसकी रिपोर्ट तैयार की जाएगी। ताकि इंजेक्शन कितना कारगर है, इस की समीक्षा की जाए।

क्या है इसकी कीमत

मालूम हो कि इसके एक वॉइल में 1200 MG दवा होती है। जिसमें 600 MG कैसिरिविमेब और 600 MG इमदेविमाब खुराक होती है। अगर इसकी कीमत की बात करें तो सरकारी खरीद पर एक खुराक की कीमत करीब 60 हजार रूपये है। भारत में इस दवा को दिग्गज कंपनी Roche इंडिया ने लॉन्च किया है।

क्या है यह कॉकटेल

एंटीबॉडी कॉकटेल दो दवाओं का मिश्रण है, जो किसी वायरस पर एक जैसा असर करती हैं। यह कॉकटेल एंटीबॉडी दवा में कोरोना वायरस पर समान असर करने वाली एंटीबॉडीज का मिश्रण है। एंटीबॉडी-ड्रग कॉकटेल Casirivimab और Imdevimab प्रोटीन वायरस से लड़ने के लिए इम्यून सिस्टम की क्षमता की कॉपी करते हैं, जिससे प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। ये कॉकटेल वायरस के मानव कोशिकाओं में प्रवेश को रोकने का काम करते हैं।

CDSCO से मिली है मंजूरी

सेंट्रल ड्रग्स स्टैंडर्ड्स कंट्रोल ऑर्गेनाइजेशन (CDSCO) ने हाल ही में एंटीबॉडी कॉकटेल को इमरजेंसी यूज ऑथराइजेशन यानि EUA दिया है। इसके अलावा दवा को अमेरिका और यूरोपीय संघ के कई देशों में पहले से मंजूरी हासिल है। एक्सपर्ट्स का कहना है कि यह दवा भारत में पाए गए पहले कोरोना वैरिएंट पर भी कारगर है। खास बात ये है कि इस दवा का इस्तेमाल 12 साल से ज्यादा उम्र के बच्चों पर भी किया जा सकता है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password