Corona In Damoh: दमोह में कोरोना को नजर अंदाज कर हुईं चुनावी रैलियां, भाजपा-कांग्रेस के 109 नेता कोरोना संक्रमित

दमोह। प्रदेश में लगातार कोरोना का कहर बढ़ रहा है। रोजाना हजारों नए मरीज सामने आ रहे हैं। इसी बीच दमोह में 17 अप्रैल को विधानसभा सीट पर उपचुनाव होना है। इसको लेकर यहां लगातार चुनावी रैलियां और सभाएं आयोजित होतीं रहीं हैं। इन रैलियों में लगातार कोरोना के नियमों को ताक पर रखा गया है। यहां चुनावी गर्मी के कोरोना के नियमों को अनदेखा कर लगातार सभाएं आयोजित की गईं हैं। हाल ही में पीसीसी चीफ कमलनाथ और सीएम शिवराज सिंह की सभाओं में बड़ी संख्या में भीड़ इकट्ठी हुई थी। अब यहां गुरुवार को कोरोना का बम फूटा है। यहां 15 अप्रैल को पहली बार 128 नए संक्रमित मिले हैं। इतना ही नहीं कांग्रेस प्रत्याशी अजय टंडन भी कोरोना संक्रमित हो गए हैं। यहां पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह दो दिन पहले चुनाव प्रचार करने आए थे। अब शुक्रवार को उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।

यहां पर अभी तक भाजपा और कांग्रेस के 109 नेता कोरोना संक्रमित हो गए हैं। बता दें कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण के इस प्रचंड दौर में प्रदेश के कई शहरों में कोरोना कर्फ्यू लगाया गया था। हालांकि दमोह में कोरोना कर्फ्यू का ऐलान नहीं किया गया था। यहां चुनाव के चलते लगातार सभाएं की गईं हैं। इसी कारण यहां कोरोना का बम फूटा है। गुरुवार को यहां 128 नए संक्रमित मरीज सामने आए हैं। यह पहली बार है जब संक्रमितों की संख्या एक दिन में 100 से ऊपर आई है। बता दें कि यहां दोनों ही प्रमुख राजनीतिक दलों ने लगातार रैलियां की हैं। दमोह में कोरोना स्थिति को लेकर मंत्री भूपेंद्र सिंह ने गुरुवार को मुख्यमंत्री से भी चर्चा की है। मुख्यमंत्री से चर्चा के बाद कोरोना नियंत्रण जिला प्रभारी मंत्री भूपेंद्र सिंह ने निर्देश दिए हैं। इसमें उन्होंने कहा कि दमोह जिला चिकित्सालय में हेल्प डेस्क गठित की जाएगी।

डेस्क के माध्यम से जिले में रेमेडिसिवर इंजेक्शन, आक्सीजन बेड, वेंटिलेटर की उपलब्धता की जानकारी भी मिलेगी। पिछले 12 घंटे में 185 आक्सीजन सिलेंडर दमोह पहुंच गए हैं। इतना ही नहीं निजी अस्पतालों में भी ऑक्सीजन के सिलेंडर उपलब्ध कराए जा रहे हैं। मिशन अस्पताल को 8 बड़े एवं 5 छोटे, संजीवनी अस्पताल को 3 बड़े एवं 2 छोटे ऑक्सीजन सिलेंडर देर रात उपलब्ध कराए गए हैं। गुरुवार देर शाम फिर 60 रेमेडिसिवर इंजेक्शन दमोह भेजे गए हैं। 30 इंजेक्शन जिला चिकित्सालय एवं 30 इंजेक्शन निजी अस्पतालों को उपलब्ध कराए गए हैं।

रैलियों में नहीं की गई सख्ती…
इन रैलियों और चुनावी सभाओं में किसी तरह की कोई सख्ती नहीं बरती गई है। कई नेताओं की रैलियों में तो खुद नेताओं ने भी मास्क नहीं पहन रखा था। वहीं सोशल डिस्टेंसिंग तो दूर की बात है यहां कोरोना नियमों को ताक पर रखकर लगातार सभाएं की गईं हैं। नए संक्रमित मरीजों की संख्या को मिलाकर दमोह में 3744 कुल मरीज संक्रमित हो चुके हैं। इसमें से 1 से चुनाव प्रचार थमने वाले दिन 15 अप्रैल तक 625 संक्रमित हुए।

जबकि इस दौरान 2 लोगों की मौत हुई। लेकिन इस दौरान एक्टिव केस 2,988 बढ़े। बता दें कि प्रदेश में लगातार कोरोना का कहर बढ़ता जा रहा है। गुरुवार को प्रदेश में 10166 नए संक्रमित मिले हैं। सा​थ ही 53 मरीजों की मौत भी हुई है। यह एक दिन में मिलने वाले मरीजों का अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा है। प्रदेश में अब तक कोरोना के कारण मरने वाले लोगों की संख्या 4365 हो गई है। गुरुवार को 10166 नए मामले सामने आने के बाद प्रदेश में कुल मरीजों की संख्या 3,73,518 तक पहुंच गई है।

गुरुवार को सबसे ज्यादा मामले इंदौर में सामने आए। यहां 24 घंटे में 1693 नए संक्रमित मरीज मिले हैं। वहीं राजधानी भोपाल इस सूची में दूसरे नंबर पर है। यहां 1637 नए मामले सामने आए हैं। वहीं जबलपुर में 653 और उज्जैन में 267 नए संक्रमित मरीज सामने आए हैं। प्रदेश में अब तक कुल 3,73,518 संक्रमितों में से अब तक 3,13,459 ठीक भी हुए हैं।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password