Corona Vaccination in India: विश्व का सबसे बड़ा वैक्सीनेशन अभियान शुरू, दिल्ली AIIMS के कर्मचारी का लगा देश का पहला टीका

Image Source: [email protected]ANI
Image Source: [email protected]Sudarsan Pattnaik

Corona Vaccination Drive in India: कोरोना वैक्सीन का इंतजार खत्म होने के साथ ही आज से देश में कोरोना के खिलाफ वैक्सीनेशन अभियान की शुरुआत हो गई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से दुनिया के सबसे बड़े टीकाकरण अभियान की शुरुआत कर दी है। देश में कोरोना के खिलाफ सबसे बड़ी जंग का आगाज करते हुए पीएम मोदी ने कहा, भारत का टीकाकरण अभियान बहुत ही मानवीय और महत्वपूर्ण सिद्धांतों पर आधारित है। जिसे सबसे ज्यादा जरूरत है, उसे सबसे पहले कोरोना का टीका लगेगा।

AIIMS के कर्मचारी को लगा देश का पहला कोरोना टीका

बता दें कि, दिल्ली स्थित एम्स में कोरोना का पहला वैक्सीन लगाया गया। दिल्ली एम्स में सबसे पहला टीका सैनिटेशन डिपार्टमेंट के कर्मचारी मनीष कुमार (Sanitation worker Manish Kumar) को लगाया गया। इसके साथ ही मनीष कोरोना का टीका लगवाने वाला देश का पहला नागरिक (first person receive COVID19 vaccine) बन गया है।

एम्स के डायरेक्टर डॉ. रणदीप गुलेरिया को भी वैक्सीन लगाई गई। डॉ. गुलेरिया देश के टॉप चिकित्सा विशेषज्ञ हैं। एम्स में नीति आयोग के सदस्य डॉ. वीके पॉल को भी वैक्सीन लगाई गई।

वैक्सीनेशन अभियान के साथ ही पीएम मोदी ने CoWIN ऐप भी लॉन्च किया। बता दें कि, आज 3006 केंद्रों पर करीब 3 लाख हेल्थकेयर वर्कर्स को वैक्सीन लगेगी।

हेल्पलाइन नंबर 1075 पर कल करके टीकाकरण से जुड़ी हर जानकारी ले सकते हैं। हफ्ते में 4 दिन सुबह 9 से शाम 5 बजे तक कोरोना का टीका लगेगा। टीका लगवाने के बाद सिर दर्द जैसे लक्षण भी दिख सकते हैं, लेकिन ऐसे में घबराने की जरूरत नहीं है। वैक्सीन लगवाने वाले हर व्यक्ति का पूरा डेटा CoWin सॉफ्टवेयर में होगा। टीका लगवाने वालों को डिजिटल सर्टिफिकेट भी मिलेगा।

एक केंद्र में एक दिन में सुबह 9 से शाम 5 बजे तक लगभग 100 लोगों को टीका लगाया जाएगा। हफ्ते में चार दिन- सोमवार, मंगलवार, गुरुवार और शनिवार को टीके लगाए जाएंगे। आज जिन्हें वैक्सीन लगनी है, उनकी लिस्ट को-विन सॉफ्टवेयर में अपलोड कर दी गई है। उन्हें मोबाइल पर मैसेज भी भेजे गए हैं।

देशभर में एक साथ शुरू हो रहा टीकाकरण अभियान
इस टीकाकरण अभियान की शुरुआत पूरे देश में एक साथ हुई है। इसके लिए सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों में कुल 3006 टीकाकरण केंद्र बनाए गए हैं। जानकारी के मुताबिक, राजस्थान में जयपुर के सवाई मान सिंह मेडिकल कॉलेज के प्रधानाचार्य सुधीर भंडारी को सबसे पहले टीका लगाया जाएगा। वहीं मध्य प्रदेश में जेपी अस्पताल के सुरक्षागार्ड हरिदेव को पहली वैक्सीन लगेगी।

हालांकि टीकाकरण अभियान की शुरुआत से पहले ही सरकार ने ये स्पष्ट कर दिया है कि, दोनों कोरोना वैक्सीन के गंभीर साइड इफेक्ट्स अभी तक सामने नहीं आए हैं। लेकिन इनसे हल्का बुखार, बदन दर्द, सिरदर्द हो सकता है। स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन का कहना है, किसी भी वैक्सीन को लगाने पर ऐसे लक्षण हो सकते हैं, इसलिए घबराने की जरूरत नहीं। जिन लोगों को वैक्सीन लगाई जाएगी उन्हें डोज लेने के बाद आधा घंटा तक सेंटर पर ही रहना होगा। किसी भी तरह के साइड इफेक्ट्स से निपटने के लिए अलग से सेंटर बनाए गए हैं।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password