Corona Update: पटरी से उतर सकते हैं Covid-19 की रोकथाम के प्रयास, स्वास्थ्य मंत्री ने दी चेतावनी

Corona Third Wave

नई दिल्ली। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने शनिवार को चेतावनी दी कि अगर प्रोटोकॉल का पालन नहीं किया गया तो कोविड-19 की रोकथाम के प्रयास पटरी से उतर सकते है। उन्होंने 19 राज्यों को टीकाकरण की गति बढ़ाने का आह्वान किया ताकि भारत अगले कुछ दिनों में टीके की 100 करोड़ खुराकों को लगाने के आंकड़े को हासिल कर सके। भारत ने अब तक टीके की 94 करोड़ से अधिक खुराक लगाई है। सभी प्रमुख राज्यों के राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के प्रमुख सचिवों और मिशन निदेशकों के साथ कोविड-19 टीकाकरण की प्रगति की समीक्षा करते हुए, मांडविया ने कहा कि कोविड टीके की 100 करोड़ खुराक देना भारत की टीकाकरण यात्रा में मील का पत्थर साबित होगा।

स्वास्थ्य मंत्रालय के एक बयान के अनुसार, मांडविया ने कहा कि अगर त्योहारों, जश्न और बड़ी सभाओं के दौरान कोविड प्रोटोकॉल का ध्यान नहीं रखा जाता है, तो कोविड-19 की रोकथाम पटरी से उतर सकती है। मंत्री ने कहा, ‘‘दोतरफा समाधान कोविड प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन करना और टीकाकरण में तेजी लाना है।’’ उन्होंने उन प्रयोगों के परिणामों का हवाला दिया, जिनमें पहली खुराक प्राप्त करने वालों की संख्या, जिनमें गंभीर कोविड ​​-19 विकसित नहीं हुआ, 96 प्रतिशत थी और यह संख्या उन लोगों के लिए लगभग 98 प्रतिशत तक बढ़ जाती है, जिन्होंने टीके की दोनों खुराक ली है।

बैठक में आंध्र प्रदेश, असम, बिहार, छत्तीसगढ़, गुजरात, हरियाणा, झारखंड, कर्नाटक, केरल, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, ओडिशा, पंजाब, राजस्थान, तमिलनाडु, तेलंगाना, उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल के अधिकारियों ने हिस्सा लिया। बयान में कहा गया है कि यह देखते हुए कि आठ करोड़ से अधिक टीके की खुराक राज्यों के पास भौतिक रूप से उपलब्ध है, मंडाविया ने लक्षित आबादी के बीच टीकाकरण और टीका कवरेज की गति बढ़ाने में उनके सामने आने वाली विशिष्ट बाधाओं के बारे में पूछताछ की।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा, ‘‘राज्यों के परामर्श से, मंत्री ने प्रत्येक राज्य को अपना लक्ष्य बढ़ाने का आह्वान किया ताकि अगले कुछ दिनों में 100 करोड़ के आंकड़े तक पहुंचने के लिए अंतिम छह करोड़ खुराकें लगाई जा सके।’’ केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने सभी राज्य के स्वास्थ्य प्रशासकों से त्योहारों के दौरान कोविड-19 के प्रकोप को रोकने के लिए कोविड-उपयुक्त व्यवहार के पालन के साथ सख्त होने का आग्रह किया। उन्होंने 21 सितंबर को एक मंत्रालय के पत्र के माध्यम से जारी विस्तृत मानक संचालन प्रक्रिया का पालन करने की आवश्यकता को रेखांकित किया। भाषा देवेंद्र उमाउमा

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password