Corona Death In Balaghat : 4 दिन में एक घर से उठी 3 अर्थियां,इसी परिवार की एक बच्ची भी है कोरोना पॉजिटिव

Corona Death In Balaghat

बालाघाट। मध्य प्रदेश के बालाघाट में कोरोना वायरस Corona Death In Balaghat ने एक परिवार को खत्म कर दिया। जिले के वारासिवनी के सिकंदरा गांव में एक ही घर में चार दिन में तीन मौत होने से दहशत है। परिवार में 10 अप्रैल को 31 वर्षीय बेटे की कोरोना से मौत हो गई। इसी दौरान 60 वर्षीय पिता कोरोना पाजिटिव पाए गए तो उन्हें होम आइसोलेशन में रख दिया।

बच्ची भी कोरोना पाजिटिव
पुत्र की मौत के बाद 55 वर्षीय मां की तबीयत बिगड़ने पर बालाघाट में भर्ती किया गया। इसी बीच बीते सोमवार को महिला के 60 वर्षीय पति ने भी दम तोड़ दिया। इस खबर के बाद बीते मंगलवार को महिला की भी अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई। बताया जा रहा है कि इसी परिवार की एक 10 वर्षीय एक बच्ची भी कोरोना पाजिटिव है।

बालाघाट में भर्ती किया गया था

नगर के निकटस्थ ग्राम सिकन्द्रा में एक ही घर में लगातार तीन मौतें होने से गाव में दहशत का महौल है। इन तीन मौतों पुत्र व पिता और माता शामिल है। बताया जा रहा है कि पुत्र की मौत के पिता व भतीजी कोरोना पाजिटिव आए थे। गौरतलब है कि वारासिवनी तहसील अंतर्गत ग्राम पंचायत सिकन्द्रा में 10 अप्रैल को दाने परिवार के 31 वर्षीय जवान पुत्र संजू दाने की मौत हो गई। जिसके बाद पूरे परिवार के अन्य सदस्यों का कोरोना टेस्ट करवाया गया। जिसमें उनके पिता बेनीराम दाने कोरोना पॉजीटिव पाए गए थे। जिस पर उन्हें स्वास्थ्य विभाग द्वारा घर में ही होम आईसोलेशन में रखा गया था। वहीं पुत्र की मौत से व्यथित मां कुंतन बाई दाने 55 वर्ष की तबीयत खराब होने पर उन्हें बालाघाट में भर्ती किया गया था। जहॉ उनक इलाज चल रहा था। इसी बीच उन्हें पति की मौत की खबर मिली, जिसे सुनकर उन्हें सदमा लगा और उन्होंने दम तोड़ दिया।

स्थिति बहुत खराब होती जा रही
मध्य प्रदेश में कोरोना के केस Madhya Pradesh Corona Case लगातार बढ़ते जा रहे है। धीरे धीरे यहां कोरोना की वजह से स्थिति बहुत खराब होती जा रही है। हालांकि सरकार और प्रशासन इसको रोकने के लिए लगातार प्रयास कर रहा है और प्रदेश के एक दर्जन से अधिक शहरों में कोरोना कर्फ्यू लगा दिया गया है जिससे कोरोना के केस का कम किया जा सके,लेकिन उसके बाद भी स्थिति में सुधार नहीं हो रहा है।

मरने वालों की संख्या भी तेजी से बढ़ रही

इतना ही नहीें अब प्रदेश में कोरोना से मरने वालों की संख्या भी तेजी से बढ़ रही है। यहां तक कि श्मशान में शवों की लाइन लगी है। अंतिम संस्कार के लिए भी घंटों इंतजार करना पड़ा रहा है। बताया जा रहा है कि ऑक्सीजन की कमी से मरीजों की जान जा रही है,लेकिन सरकार ऑक्सीजन की कमी की बात को बार बार नकार रहीं है।

प्रदेश में 9720 नए पॉजिटिव केस मिले
मध्य प्रदेश में 13 अप्रैल को 51 मौतें दर्ज की गई। जो अब तक एक दिन में सबसे ज्यादा मौतें हैं। बताया जा रहा है कि इसके पहले 23 सितंबर 2020 एमपी में 45 मौतें दर्ज की गई थीं। वहीं पिछले 24 घंटे की बात करें तो प्रदेश में 9720 नए पॉजिटिव केस मिले हैं, जबकि एक्टिव केस का आंकड़ा 49551 पहुंच गया है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password