Punjab Politics: क्या आज सुलझेगा कांग्रेस का सियासी विवाद? सुनील जाखड़ से मिले नवजोत सिंह सिद्धू

चंडीगढ़। (भाषा) कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू ने पंजाब प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रमुख सुनील जाखड़ से शनिवार को मुलाकात की। यह मुलाकात ऐसे समय में हुई जब क्रिकेटर से राजनेता बने सिद्धू के कांग्रेस की राज्य इकाई का अगला अध्यक्ष बनने की अटकलें तेज हैं। यह मुलाकात आधे घंटे से ज्यादा समय तक चली और इसके बाद सिद्धू ने जाखड़ को बड़ा भाई और मार्गदर्शक बताया। वहीं, जाखड़ ने सिद्धू को सक्षम व्यक्ति करार दिया। एक सहयोगी ने बताया कि सिद्धू पटियाला स्थित अपने आवास से निकले और क़रीब 65 किलोमीटर की यात्रा कर क़रीब 10 बजकर 45 मिनट पर जाखड़ के पंचकूला स्थित आवास पहुंचे।

जाखड़ से मिलने के बाद सिद्धू ने चंडीगढ़ में कुछ मंत्रियों समेत अन्य नेताओं से मुलाकात की। उन्होंने स्वास्थ्य मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू और पार्टी के वरिष्ठ नेता लाल सिंह से मुलाकात की। ये नेता मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह के करीबी माने जाते हैं। सिद्धू ने मंत्रिमंडल मंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा और विधायक बरिंदरमीत सिंह पहरा, अमरिंदर सिंह राजा वारिंग, कुलबीर सिंह जीरा और दविंदर सिंह घुबाया से भी मुलाकात की। संवाददाताओं से बातचीत में रंधावा ने कहा, पार्टी में ‘ऑल इज वेल (सब अच्छा)’ है।

यह बैठक ऐसे समय में हो रही है जब सिद्धू और मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह के बीच मतभेद को लेकर पंजाब कांग्रेस इकाई में घमासान जारी है। शुक्रवार को सिद्धू ने नयी दिल्ली में पार्टी प्रमुख सोनिया गांधी से उनके आवास पर मुलाकात की। इस बैठक में एआईसीसी के महासचिव और कांग्रेस के पंजाब प्रभारी हरीश रावत और कांग्रेस नेता राहुल गांधी मौजूद थे। सूत्रों ने बताया कि सिद्धू को पार्टी में अहम पद दिए जाने की खबरों से अमरिंदर सिंह नाराज हैं और उन्होंने इस घटनाक्रम पर आपत्ति जताते हुए सोनिया गांधी को पत्र लिखा है। पार्टी के विधायकों से सिद्धू की बैठक ऐसे दिन में हुई है जब कांग्रेस महासचिव और पार्टी के पंजाब प्रभारी हरीश रावत ने मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह से चंडीगढ़ में मुलाकात की है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password