उत्तर भारत में शीतलहर तेज हुई , दिल्ली में न्यूनतम तापमान गिरकर 3.6 डिग्री सेल्सियस हुआ -

उत्तर भारत में शीतलहर तेज हुई , दिल्ली में न्यूनतम तापमान गिरकर 3.6 डिग्री सेल्सियस हुआ

नयी दिल्ली, 29 दिसंबर (भाषा) पहाड़ी क्षेत्रों में ताजा बर्फबारी के बाद उत्तरभारत में शीतलहर का प्रकोप और बढ़ गया। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में न्यूनतम तापमान लुढ़कर 3.6 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया।

भारत मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार पश्चिमी विक्षोभ के कारण जम्मू कश्मीर, लद्दाख, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में जगह जगह हिमपात हुआ।

विभाग के अनुसार पश्चिमी हिमालय से सर्द और शुष्क उत्तरी एवं उत्तरीपश्चिमी हवा मैदानी क्षेत्रों की ओर बह रही है जिससे उत्तर भारत में न्यूनतम तापमान में गिरावट आई है।

दिल्ली भी मंगलवार को शीतलहर से ठिठुरती रही और यहां न्यूनतम तापमान 3.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

पूरी दिल्ली का औसत तापमान बताने वाली सफदरजंग वेधशाला ने सोमवार रात न्यूनतम तापमान 3.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया, जबकि अधिकतम तापमान 18.1 डिग्री सेल्सियस रहा जो सामान्य से दो डिग्री कम है।

विभाग के अनुसार आया नगर और लोधी रोड मौसम केंद्रों ने न्यूनतम तापमान क्रमश: 2.6 डिग्री सेल्सियस और 2.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

यदि मैदानी इलाकों में न्यूनतम तापमान चार डिग्री सेल्सियस से नीचे चला जाता है, तो मौसम विभाग शीतलहर घोषित कर देता है। तापमान के दो डिग्री सेल्सियस से भी कम हो जाने पर अत्यंत भीषण शीतलहर की घोषणा की जाती है।

मौसम विभाग ने कहा कि तापमान नववर्ष की पूर्व संध्या पर और भी गिर सकता है।

कश्मीर में ज्यादातर स्थानों पर मध्यम हिमपात हुआ और पर्यटन उद्योग से जुड़े लोगों चेहरे खिल गये क्योंकि उन्हें नये साल पर कारोबार के तेज होने की उम्मीद है।

अधिकारियों के अनुसार श्रीनगर में सुबह सात बजे हिमपात होने लगा और उसके कई घंटे बाद पड़ोस के बडगाम और पुलवामा जिलो में भी बर्फबारी होने लगी।

अधिकारियों के अनुसार स्की -रिसोर्ट गुलमर्ग में सात इंच ताजा बर्फबारी हुई जबकि पहलगाम एवं सोनमार्ग में तीन से चार इंच हिमपात हुआ।

अधिकारियों के अनुसार नये साल से पहले हुए हिमपात की वजह से अनेक घरेलू पर्यटक और स्थानीय लोग गुलमर्ग और पहलगाम पहुंच रहे हैं।

श्रीनगर में सोमवार रात न्यूनतम तापमान शून्य डिग्री रहा। पहलगाम, गुलमर्ग, काजीगुंड, कुपवाड़ा और कोकरनाग में पारा शुन्यू से क्रमश: तीन डिग्री, 7.5 डिग्री, 0.4 डिग्री, एक डिग्री और तीन डिग्री नीचे तक लुढक गया। गुलमर्ग घाटी में सबसे ठंडा स्थान रहा।

उधमपुर में पहाड़ी पर्यटन स्थल पटनीटॉप, और डोडा, किश्तवाड़, राजौरी, पुंछ, कठुआ, रियासी और रामबन के ऊपरी इलाकों में भी बर्फबारी हुई।

हिमाचल प्रदेश में मंगलवार को शीतलहर में जबरदस्त बढ़ोत्तरी हुयी और न्यूनतम तापमान में एक से दो डिग्री सेल्सियस की कमी दर्ज की गयी ।

सिंह ने बताया कि लाहौल स्पीति जिले का प्रशासनिक केंद्र केलांग प्रदेश में सबसे अधिक सर्द स्थान रहा और न्यूनतम तापमान शून्य के नीचे 10.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया ।

उन्होंने बताया कि किन्नूर जिले के कल्पा में न्यूनतम तापमान शून्य के नीचे छह डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया ।

उन्होंने बताया कि डलहौजी, मनाली, कुफरी, सेओबाग, सोलन एवं भुंतर में क्रमश: शून्य के नीचे 2.9, शून्य के नीचे 2.6 एवं शून्य के नीचे 0.2, शून्य के नीचे 1.5, शून्य के नीचे 0.4 एवं शून्य के नीचे 0.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया ।

शिमला में न्यूनतम तापमान शून्य के नीचे 1.6 डिग्री सेल्सियस रहा।

हरियाणा और पंजाब के कई हिस्सों में पिछले कुछ दिनों से जारी शीत लहर मंगलवार को और तेज हो गई।

दोनों राज्यों में हिसार के अलावा, नारनौल, अमृतसर और चंडीगढ़ सहित कई स्थानों पर पिछली रात इस मौसम की सबसे ठंडी रात रही।

मौसम विज्ञान विभाग ने बताया कि हिसार में तापमान सामान्य से छह डिग्री नीचे दर्ज किया गया। अमृतसर में तापमान 0.4 डिग्री सेल्सियस रहा।

अधिकारियों ने बताया कि कोहरे के कारण दोनों राज्यों में सुबह कई स्थानों पर दृश्यता कम हो गई।

हरियाणा के नारनौल में भी तापमान सामान्य से पांच डिग्री कम 0.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

राज्य के करनाल, सिरसा, रोहतक और अंबाला में तापमान क्रमश: 2.6 डिग्री सेल्सियस, 2.5 डिग्री सेल्सियस, 2.6 डिग्री सेल्सियस और 3.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

दोनों राज्यों की संयुक्त राजधानी चंडीगढ़ में तापमान 2.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

पंजाब में भी ठंड का कहर जारी रहा, जहां लुधियाना में न्यूनतम तापमान 1.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। हलवारा में तापमान 1.3 डिग्री सेल्सियस और आदमपुर में 1.7 डिग्री सेल्सियस रहा।

बठिंडा, फरीदकोट, पटियाला और पठानकोट में भी रात बेहद ठंडी रही, जहां न्यूनतम तापमान क्रमश: 2.1 डिग्री सेल्सियस, 2.9 डिग्री सेल्सियस, 3.6 डिग्री सेल्सियस और 3.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

राजस्थान में तेज और ठंडी उत्तरी हवाओं के असर के चलते मंगलवार को अधिकतर स्थानों पर न्यूनतम और अधिकतम तापमान में गिरावट दर्ज की गई ।

राजस्थान के एक मात्र पर्वतीय पर्यटक स्थल माउंट आबू में तापमान शून्य से नीचे चार डिग्री सेल्सियस, चूरू में जमाव बिन्दू शून्य डिग्री, सीकर में शून्य से नीचे एक डिग्री, पिलानी- भीलवाड़ा में 01-01 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। चित्तोडगढ़-डबोक में दो-दो डिग्री सेल्सियस, श्रीगंगानगर में तीन डिग्री सेल्सियस, बीकानेर-अजमेर में चार चार डिग्री सेल्सियस, अलवर-सवाईमाधोपुर-बूंदी में पांच-पांच डिग्री सेल्सियस, राजधानी जयपुर-जोधपुर-फलौदी में छह-छह डिग्री सेल्सियस, बाडमेर में तापमान आठ डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

भाषा राजकुमार पवनेश

पवनेश

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password